फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनकभी मुंबई में गुजारा करने के लिए ऑटो चलाते थे राजू श्रीवास्तव, जानें फिर कैसे गजोधर भैया बनकर जीता दिल

कभी मुंबई में गुजारा करने के लिए ऑटो चलाते थे राजू श्रीवास्तव, जानें फिर कैसे गजोधर भैया बनकर जीता दिल

राजू श्रीवास्तव कॉमेडी किंग हैं। उन्होंने अपनी कॉमेडी से हमेशा सबका दिल जीता है। वह राजू श्रीवास्तव से ज्यादा गजोधर भैया के नाम से पॉपुलर हैं। उन्होंने कई फिल्मों और टीवी शोज में काम किया है।

कभी मुंबई में गुजारा करने के लिए ऑटो चलाते थे राजू श्रीवास्तव, जानें फिर कैसे गजोधर भैया बनकर जीता दिल
Sushmeeta Semwalटीम लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीWed, 21 Sep 2022 11:14 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राजू श्रीवास्तव अब इस दुनिया में नहीं हैं। करीब 40 दिन एम्स में भर्ती रहने के बाद उनका निधन हो गया। राजू का जन्म 25 दिसंबर 1963 में हुआ था। उनके पिता रमेश चंद्र श्रीवास्तव कवि थे। राजू के अंदर ये कॉन्फिडेंस अपने पिता से ही आया था। हालांकि राजू को कवि नहीं बल्कि कॉमेडियन बनना था। राजू गजोधर भैया के नाम से पॉपुलर हुए। उनके कॉमेडी का स्टाइल किसी के भी चेहरे पर हंसी ला देता था। इसी वजह से राजू को तो किंग ऑफ कॉमेडी कहा जाता था। बता दें कि राजू ने अपनी लाइफ में काफी मुश्किलों का सामना किया है। यहां तक पहुंचने के लिए उन्होंने बहुत स्ट्रगल किया है। जब वह मुंबई में काम की तलाश में थे और पैसे नहीं होते थे तो ऑटो चलाकर अपना गुजारा करते थे। वहीं एक सवारी के जरिए ही राजू को ब्रेक मिला था।

टीवी में की करियर की शुरुआत
 
राजू ने अपनी करियर की शुरुआत टीवी से की। वह शो टी टाइम मनोरंजन में नजर आते थे। वह इस शो में ब्रजेश हीरजी और सुरेश मैनन के साथ नजर आते थे। हालांकि राजू को पॉपुलैरिटी शो द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज से मिली। गजोधर भैया बनकर राजू ने सबका दिल जीत लिया था। वह शो के विनर नहीं रहे, लेकिन उन्होंने अपनी एक खास पहचान बना ली थी। बस इसके बाद तो राजू ने फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

कॉमेडी शोज को लेकर अपने स्ट्रगल के बारे में बताते हुए राजू ने एक इंटरव्यू में कहा था, 'जब मैं मुंबई आया था लोग कॉमेडिन को ग्रेट एक्टर नहीं समझते थे। उस वक्त जोक्स जॉनी वॉकर से शुरू होकर जॉनी लीवर तक खत्म होते थे। तब स्टैंड-अप कॉमेडी की कोई जगह नहीं होती थी तो मुझे जो जगह चाहिए थी वो मिली नहीं।'

राजू की पॉपुलैरिटी और टैलेंट को देखते ही उन्हें बिग बॉस शो में बुलाया था। वह शो तो नहीं जीते, लेकिन ऑडियंस को एंटरटेन बहुत किया। इसके अलावा राजू ने पॉलिटिक्स में भी एंट्री मारी। राजू पहले समाजवादी पार्टी में थे और फिर वह बीजेपी में आए।  

यह भी पढ़ें : Raju Srivastav की तबीयत बिगड़ी, जिम में ट्रेड मिल पर गिरे कॉमेडियन; AIIMS में भर्ती

राजू की फिल्में

राजू ने साल 1988 में फिल्म तेजाब से करियर की शुरुआत की थी। फिल्म में राजू का हालांकि कैमियो था। इसके बाद राजू फिल्म मैंने प्यार किया, बाजीगर, मिस्टर आजाद, आमदनी अठन्नी खर्चा रुपैया, मैं प्रेम की दीवानी हूं, बॉम्बे टू गोवा में नजर आए हैं।

epaper