DA Image
Thursday, December 9, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनस्पाइन में दर्द, बेड से उठना तक हो गया था मुश्किल... कपिल शर्मा ने बताया क्यों शो को करना पड़ा था ऑफ एयर

स्पाइन में दर्द, बेड से उठना तक हो गया था मुश्किल... कपिल शर्मा ने बताया क्यों शो को करना पड़ा था ऑफ एयर

लाइव हिन्दुस्तान,मुंबईShrilata
Sun, 17 Oct 2021 11:45 AM
स्पाइन में दर्द, बेड से उठना तक हो गया था मुश्किल... कपिल शर्मा ने बताया क्यों शो को करना पड़ा था ऑफ एयर

कपिल शर्मा एक बार फिर से अपने शो से टीवी पर धमाल मचा रहे हैं। शो को दर्शकों ने जबरदस्त रिस्पॉन्स दिया है। इससे कपिल काफी खुश हैं। जब उनका शो बंद हुआ था फैन्स को निराशा हुई थी हालांकि खुद कपिल के लिए भी यह फैसला आसान नहीं था। कॉमेडियन ने बताया कि किस तरह वह बैक पेन की समस्या से जूझ रहे थे जिस वजह से उन्हें यह फैसला लेना पड़ा।

2015 से दर्द झेल रहे कपिल

कपिल का एक वीडियो सामने आया है जिसमें वह बता रहे हैं कि उन्हें बैक पेन की समस्या थी। कपिल कहते हैं कि ‘यह पहली बार 2015 में हुआ था। मुझे उस वक्त ज्यादा इसके बारे में पता नहीं था, मैं यूएस में था जहां मुझे एक डॉक्टर मिले और मुझे बहुत दर्द था। उन्होंने मुझे Epidural दिया। मुझे दर्द से राहत तो मिल गई लेकिन समस्या ज्यों की त्यों वैसी ही रही।‘ 

इंजरी की वजह से लिया था फैसला

‘स्पाइन का इश्यू ऐसा है कि हर चीज का मूल यही है। रीढ़ की हड्डी का उदाहरण इसी वजह से दिया जाता है। अगर आपकी रीढ़ की हड्डी में प्रॉब्लम आ जाती है तो सबकुछ धरा का धरा रह जाता है। मेरा शो मुझे ऑफ एयर करना पड़ा था, मेरी इंजरी की वजह से। व्यवहार में एक तरह की खीझ आ जाती है। बेड से उठ नहीं पा रहे हैं। ऊपर से ये बोल देते हैं कि लेटे-लेटे वजन बढ़ जाएगा तो आप लिक्विड डाइट पर आ जाओ। एक तो आदमी वैसे ही दर्द में हो और ऊपर से सैलेड खाने को दे दे तो दर्द डबल हो जाता है। तो ये सब चीजें मैंने झेली हैं।‘

शारीरिक बदलाव को अनदेखा ना करें

कपिल का यह वीडियो बीते शनिवार को वर्ल्ड स्पाइन डे के मौके पर आया है। उन्होंने सभी से यह प्रार्थना की है कि शरीर में जो भी बदलाव दिख रहे हैं उसे नोटिस करें।

इस साल की शुरुआत में कपिल शर्मा शो बंद हो गाय था। कुछ महीने पहले ही शो की वापसी हुई है। तब कपिल ने कहा था कि वो अपने परिवार के साथ कुछ वक्त बिताना चाहते हैं।
 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें