DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Wah! भारत की जीत के बावजूद चर्चा में है श्रीलंका का यह बॉलर, यहां तक पहुंचने में श्रीलंका के इस पूर्व खिलाड़ी ने की मदद...

अकिला ने 10 ओवर में दिए 54 रन
अकिला ने 10 ओवर में दिए 54 रन

भारत और श्रीलंका के बीच खेला गया दूसरा वनडे भले ही इंडिया तीन विकेट से जीत गई हो, लेकिन श्रीलंका के बॉलर अकिला धनंजय भी क्रिकेट फैंस का दिल जीतने में पीछे नहीं रहे। जीते भी क्यों न आखिर धंनजय की बॉलिंग ही इतनी कमाल की थी। श्रीलंका के बॉलर अकिला ने 10 ओवर में टीम इंडिया को 54 रन देकर 6 विकेट निकाले और मैच में सुर्खियां बटोर ली। बता दें कि श्रीलंका की तरफ से ऑफ ब्रेक गेंदबाज अकिला धनंजय शानदार गेंदबाजी करते हुए टीम इंडिया के छह विकेट लेने में कामयाब रहे। 

भारत बनाम श्रीलंका: मैच में चला भुवी और धौनी का जादू, श्रीलंका के हाथों से यूं छीनी जीत

धौनी की फॉर्म पर कप्तान कोहली का बयान, बोले-'जल्द ही...'

आगे की स्लाइड में पढ़े अकिला धनंजय के बारे में...

विराट, जाधव और राहुल को किया क्लिन बोल्ड
विराट, जाधव और राहुल को किया क्लिन बोल्ड

सुर्खियां बटोर रहे धनंजय ने रोहित शर्मा को एलबीडब्लू आउट किया। रोहित के आउट होते ही टीम इंडिया लड़खड़ा गई और एक के बाद एक विकेट गिरते चले गए। इतना ही नहीं धनंजय ने अपनी फिरकी से टीम के कैप्तन विराट, केदार जाधव और केएल राहुल जैसे धूरंधर बल्लेबाजों के विकेट लेने में कामयाब रहे। मैच के दौरान सबसे दिलचस्प बात यह रही कि श्रीलंका के इस बॉलर ने कोहली, जाधव और राहुल को क्लिन बोल्ड किया। एक ही ओवर में धनंजय तीन विकेट लेने में सफल रहे। पांचवे ओवर में हार्दिक पांड्या और अगले ही ओवर में अक्सर पटेल को आउट धंनजय ने क्रिकेट प्रेमियों का दिल जीत लिया और 10 ओवर में 54 रन देकर मैच के हीरो बन गए। 

 

घर के आर्थिक स्थिति मजबूत न होन के बावजूद यहां पहुंचे अकिला
घर के आर्थिक स्थिति मजबूत न होन के बावजूद यहां पहुंचे अकिला

धनंजय की बेहतरीन गेंदबाजी के बाद हर कोई धनंजय के बारे में जानना चाह रहा है। तो बता दें कि धनंजय का जन्म कोलंबो से 30 किलोमीटर दूर पनडुरा शहर में हुआ था। धनंजय के पिता एक कारपेंटर थे। अकिला का बचपन से सपना था कि वह क्रिकेटर बनें। लेकिन घर के हालात और आर्थिक स्थिति को देखते हुए अकिला को यह सपना पूरा होता नहीं लगता था। गांव में क्रिकेटर खेलने के दौरान उन्होंने सभी का दिल जीत लिया और गांव के लोगों ने उसे भरोसा दिलाया कि उसे एक दिन टीम श्रीलंका में खेलने का मौका जरूर मिलेगा। स्कूल में अपनी बेहतर परफॉर्मेंस के चलते वह अकसर चर्चा में रहते थे और स्कूल से ही उनका श्रीलंका टीम में सिलेक्शन हो गया। अकिला के सिलेक्शन के पीछे श्रीलंका के पूर्व कप्तान महेला जयवर्दने का हाथ था। धनंजय की खासियत है कि वह एक ही ओवर में चार अलग-अलग तरह से बॉलिंग कर सकते हैं। जिसमें गुगली और ऑफ ब्रेक शामिल है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:india won the match but srilankan baller akila dhananjaya won the heart of people