DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनEXCLUSIVE: इस सवाल को राज बब्बर और पद्मिनी कोल्हापुरे ने किया इग्नोर, कहा- 'टिप्पणी करना ठीक नहीं'

EXCLUSIVE: इस सवाल को राज बब्बर और पद्मिनी कोल्हापुरे ने किया इग्नोर, कहा- 'टिप्पणी करना ठीक नहीं'

अविनाश सिंह पाल, हिन्दुस्तान,मुंबईAvinash Singh
Fri, 19 Nov 2021 08:44 PM
EXCLUSIVE: इस सवाल को राज बब्बर और पद्मिनी कोल्हापुरे ने किया इग्नोर, कहा- 'टिप्पणी करना ठीक नहीं'

डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर 26 नवंबर को वेब सीरीज दिल बेकरार (Dil Bekaraar) रिलीज हो रही है। इस सीरीज के साथ ही राज बब्बर (Raj Babbar) अपना डिजिटल डेब्यू कर रहे हैं, वहीं उनके साथ पद्मिनी कोल्हापुरे (Padmini kolhapure) भी नजर आएंगी। ऐसे में पद्मिनी कोल्हापुरे और राज बब्बर ने दिल बेकरार की रिलीज से पहले हिन्दुस्तान से की खास बातचीत।

अपने किरदारों के बारे में कुछ बताएं और क्या खास वजह रही 'दिल बेकरार' को हां कहने की?
पद्मिनी कोल्हापुरे:
मेरे लिए खास बात ये रही कि हबीब फैजल इसको डायरेक्ट कर रहे थे। इसके बाद धीरे धीरे मेरे लिए एक्साइटमेंट बढ़ती गई जब मुझे पता लगा कि पूनम (ढिल्लों) भी इस में जुड़ गईं और फिर राज जी (बब्बर) का भी इस में नाम आ गया। वहीं मेरा किरदार काफी अलग है, जो काफी मजेदार है। आप कह सकते हैं कि मेरे किरदार से हर बार तूफान आकर जाता है, जो सभी को हिला देती है।
राज बब्बर: देखिए, पहली वजह तो हबीब रहे, मैंने उनके साथ कभी काम नहीं किया लेकिन उनका काम देखा है, जो मुझे काफी पसंद था। मैं उनसे मिला और उन्होंने मुझे प्रोजेक्ट बताया जिससे मैं काफी एक्साइटिड हो गया। मेरा किरदार इतना अच्छा था कि मेरे पास हां कहने के अलावा कोई च्वाइस ही नहीं बची। वहीं बाद में मुझे पद्मिनी जी और पूनम जी का बता तो मेरे लिए एक्साइटमेंट और कंफर्ट अधिक बढ़ गया। युवाओं के साथ काम करके भी बहुत अच्छा लगा। हबीब ने 80's का मैजिक क्रिएट किया है।

आपने सिनेमा को बदलते देखा है, आज के सिनेमा में क्या कुछ पहले से बेहतर हुआ है और क्या कुछ पहले से पिछड़ गया है?
राज बब्बर:
देखिए कुछ बिगड़ गया है, ऐसा तो ठीक नहीं लगता। हर दौर में हमेशा कुछ न कुछ नया आता है, यही प्रोसेस है। इस प्रोसेस में कुछ नया होता है, कुछ पुराना होता है, जो आगे ले जाता है। ऐसे ही 80 के सिनेमा और आज के सिनेमा में फर्क आया है, लेकिन ये फर्क बहुत खूबसूरत है। आज हर चीज के लिए स्पेशलाइजेशन है, चाहें वो कपड़े हो या फिर मेकअप। परिवार फैल रहा है और बड़ा हो रहा है। आज एक्टर्स को अच्छे सब्जेक्ट भी मिल रहे हैं।
पद्मिनी कोल्हापुरे: देखिए सिनेमा अब बहुत बड़ी फैमिली हो गई है, जिससे बहुत लोगों को काम मिलने लगा है। एक्टर्स के लिए कंफर्ट लेवल काफी बढ़ गया है। आप घर बैठकर अपने डायलॉग्स डब करके भेज सकते हैं। जबकि पहले ऐसा नहीं था। अब तो आराम ही आराम है। सिर्फ एक्टर्स ही नहीं सभी के लिए सहूलियत बढ़ गई है।

पहले की तुलना में अब गालियां और न्यूडिटी काफी बढ़ गई है सिनेमा में... आपके मुताबिक ये जरूरत है या फिर टीआरपी के लिए तड़का? 
पद्मिनी कोल्हापुरे:
देखिए इस पर मैं कमेंट नहीं करना चाहूंगी, क्योंकि मैं गर्व से ये कह सकती हूं कि दिल बेकरार एक फैमिली एंटरटेनर है, जिसे आप अपने परिवार के साथ देख सकते हैं।
राज बब्बर: बिल्कुल सही, दूसरों पर टिप्पणी करने की कोई जरूरत नहीं। सब्जेक्ट की जरूरत क्या है, डायरेक्टर की क्या मांग रहा है, एक्टर्स का काम है, वो उसे प्रोवाइड करना। वहीं मैं तो डिजिटल स्पेस में डेब्यू कर रहा हूं। दिल बेकरार काफी मासूम की लव स्टोरी है, जिस में एक विजन और आइडलिज्म भी है। इस सीरीज में रोमांस के साथ ही कॉमेडी भी खूब है।

कोई ऐसा किरदार जो आपके जेहन में हो और आप निभाना चाहते हो?
राज बब्बर:
ये बहुत ही मुश्किल है, दरअसल मुझे जब भी कोई नया रोल मिलता है तो मैं नर्वस हो जाता हूं कि मैं उसे निभा पाऊंगा या नहीं और यही नर्वसनस मुझसे काम करवाती है। बाकी दिल बेकरार में जो मेरा किरदार है, ऐसा में करना चाहता था। 
पद्मिनी कोल्हापुरे: मैंने कभी भी जिंदगी में थिएटर नहीं किया था, लेकिन जब वो किया तो मुझे बहुत अच्छा लगा, बहुत चैलेंजिंग लगा.... तो मेरी इच्छा है कि मुझे थिएटर और करना है। 

आपके अपकमिंग प्रोजेक्ट्स क्या हैं?
पद्मिनी कोल्हापुरे:
अभी तो दिल बेकरार पर ही फोकस है, बाकी कुछ स्क्रिप्ट्स पढ़ रही हूं। इसके अलावा मेरा एक गाना आ रहा है, जिसके लिए मैं एक्साइटिड हूं।
राज बब्बर:  देखिए बातें चल रही हैं, कुछ पर... एक पूनम जी के साथ आ रही है। बाकी एक बार बात कंफर्म हो जाएं फिर इस बारे में कुछ पुख्ता कह पाउंगा।

 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें