DA Image
हिंदी न्यूज़ › मनोरंजन › हिना खान के बॉयफ्रेंड रॉकी जायसवाल ने 'कल्चर डिफरेंस' को लेकर खोला राज,बताया - क्यों है दोनों में इतना प्यार?
मनोरंजन

हिना खान के बॉयफ्रेंड रॉकी जायसवाल ने 'कल्चर डिफरेंस' को लेकर खोला राज,बताया - क्यों है दोनों में इतना प्यार?

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Radha Sharma
Sat, 31 Jul 2021 12:22 PM
हिना खान के बॉयफ्रेंड रॉकी जायसवाल ने 'कल्चर डिफरेंस' को लेकर खोला राज,बताया - क्यों है दोनों में इतना प्यार?

टीवी की फेम हिना खान काफी समय से रॉकी जायसवाल डेट कर रही हैं। अक्सर इस कपल को एक साथ देखा जाता है। इतना ही नहीं ये दोनों भी अकसर सोशल मीडिया पर एक-दूसरे की तारीफ करते हैं। ये दोनों अपने रिलेशनशिप को लेकर काफी ओपन माइंडिड हैं। इसी बीच रॉकी जायसवाल ने अपनी लव लेडी हिना के साथ अपने रिलेशनशिप में 'कल्चर डिफरेंस' को लेकर कुछ ऐसा कहा है, जिसकी काफी चर्चा हो रही है। 

काफी फिल्मी है रॉकी और हिना की लव स्टोरी

आपको बता दें रॉकी- हिना पहली बार 2009 में ये रिश्ता क्या कहलाता है के सेट पर मिले थे और तुरंत एक-दूसरे के प्यार में पड़ गए। इनकी लव स्टोरी किसी फिल्मी से कम नहीं है। क्योंकि ये दोनों का अलग धर्म और समाज से संबंध रखते हैं। हिना जहां मुस्लिम परिवार से हैं वहीं हिंदू हैं। हालांकि दोनों अपने प्यार में बेहद खुश हैं । इतना ही इन्होंने अपने प्यार से एक-दूसरे के परिवार का दिल जीत लिया है। हिना खान अक्सर रॉकी के संग मंदिर जाती हैं और पूजा पाठ में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेती हैं। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Rocky Jaiswal (@rockyj1)

हिना संग 'कल्चर डिफरेंस' पर जानिए रॉकी ने क्या कहा

''हिंदुस्तान टाइम्स'' की खास बातचीत में जब रॉकी से हिना संग 'कल्चर डिफरेंस' पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, इंडिया में किसने कल्चर डिफरेंस का सामना नहीं किया? मेन पाइंट ये है कि इसने हमें बहुत करीब लाया है और आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया है। यह दो लोगों के एक साथ आने के बारे में है, इस बारे में नहीं कि मुझे कैसे पाला गया है। मेरे ख्याल से यह इस बारे में अधिक है कि हम बड़े होने के बाद क्या हैं?

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Rocky Jaiswal (@rockyj1)

इसने हमें और भी करीब ला दिया

आगे यह बताते हुए कि कैसे  '' कलचर डिफरेंस'' केवल जीवन के अनुभव को जोड़ते हैं, उन्हें समृद्ध बनाते हैं। लेकिन फर्क नहीं पड़ता है कि क्या अंतर है। क्योंकि जब आप इस बारें में बात करने में सझम हैं तो तब डिफरेंस मायने नहीं रखना है। वह आगे कहते हैं कि हमारा कलचर डिफरेंस ही हमारी ताकत है।  इस डिफरेंस ने हमें एक दूसरे और भी करीब से जानने का मौका दिया। हम दोनों अपने रिश्ते में पारदर्शी  हैं। हम दोनों एक दूसरे को अच्छी तरह समझते हैं  ये हमारे 'कल्चर डिफरेंस' से संभव हो सका है। 

"
 

संबंधित खबरें