DA Image
Saturday, November 27, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनफराह खान अली ने एनसीबी के लिए किया ट्वीट, SICK से BLAST तक का बताया मतलब

फराह खान अली ने एनसीबी के लिए किया ट्वीट, SICK से BLAST तक का बताया मतलब

हिन्दुस्तान,मुंबईAvinash Singh
Sun, 17 Oct 2021 09:26 PM
फराह खान अली ने एनसीबी के लिए किया ट्वीट, SICK से BLAST तक का बताया मतलब

क्रूज रेव पार्टी केस को लेकर शाहरुख खान के बड़े बेटे आर्यन खान अब भी जेल में हैं। आर्यन की जमानत याचिका पर 20 अक्टूबर को फैसला सुनाया जाएगा। इस बीच ऐसी खबरें सामने आ रही हैं कि आर्यन खान की वाट्सएप चैट को लेकर एनसीबी को समझने में चूक हुई है। जिसको लेकर अब फराह खान अली ने एक ट्वीट किया है।

फराह का ट्वीट
ऋतिक रोशन की पूर्व पत्नी सुजैन खान की बहन फराह खान अली ने एक ट्वीट किया है। इस ट्वीट में फराह ने सोशल मीडिया पर इस्तेमाल किए जाने वाले कुछ शॉर्टकट्स के फुल फॉर्म बताए हैं। इसके साथ ही फराह ने एक स्क्रीनशॉट भी शेयर किया है, जिस में कई और शब्दों के बारे में भी बताया गया है।

चैट को लेकर गलतफमियां
बार एंड बेंच की एक रिपोर्ट की मानें तो आर्यन के खिलाफ NCB ने जो उनकी व्हाट्सएप चैट कोर्ट में दिखाईं, उस चैट को लेकर काफी गलतफमियां हो गई हैं। कहा जा रहा है कि नई जनरेशन की भाषा समझने में NCB से चूक हो गई है। एनसीबी के वकील अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल अनिल सिंह ने अरबाज और आर्यन के बीच व्हाट्सएप चैट को कोर्ट में नोट करने के लिए कहा- 'उन्होंने कहा था वे धमाका करने जा रहे हैं।' इस पर आर्यन के वकील ने दलील दी है कि ये नई जेनेरेशन की भाषा है जिसे लेकर NCB को गलतफहमी हो गई है। आज-कल की जेनेरेशन खासकर व्हाट्सएप पर इसी तरह की भाषा का इस्तेमाल करती है। जिसका कोई गलत मतलब नहीं होता है।

युवाओं के बात करने का अंदाज काफी अलग
अमित देसाई ने कहा- 'आज कल के युवाओं के बात करने का अंदाज काफी अलग है, जो पुरानी जेनेरेशन के लिए किसी टॉर्चर की तरह लग सकता है। उनके द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली भाषा संशय जगा सकती है। इसलिए इसे प्रासंगिक रूप से पढ़ा जाना चाहिए। ये प्राइवेट मूमेंट्स हैं, जिनकी जांच की जा रही है। आज जांच कर सकते हैं लेकिन इसका गलत बर्ताव, ड्रग्स ट्रैफिकिंग से कोई लेना-देना नहीं है। ये युवाओं के बात करने का तरीका, बस उनके बीच चिट-चैट चल रह है'।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें