DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   मनोरंजन  ›  पिता को खोने के सदमे से व्हीलचेयर पर आ गई थीं सेलीना जेटली, सुनाई प्रेग्नेंसी की दिल तोड़ने वाली आपबीती

मनोरंजनपिता को खोने के सदमे से व्हीलचेयर पर आ गई थीं सेलीना जेटली, सुनाई प्रेग्नेंसी की दिल तोड़ने वाली आपबीती

हिन्दुस्तान,नई दिल्लीPublished By: Utkarsha Srivastava
Mon, 10 May 2021 08:34 PM
पिता को खोने के सदमे से व्हीलचेयर पर आ गई थीं सेलीना जेटली, सुनाई प्रेग्नेंसी की दिल तोड़ने वाली आपबीती

एक्ट्रेस सेलीना जेटली अब फिल्मों में एक्टिव नहीं है लेकिन सोशल मीडिया के जरिए अपने फैंस के साथ जुड़ी रहती हैं। हाल ही में सेलीना ने अपने प्रेग्नेंसी के दौर से जुड़ा एक बेहद इमोशनल अनुभव शेयर किया है। उन्होंने बता है कि किस तरह उन्हें अपने ट्विन बच्चों के जन्म के दौरान कितनी चुनौतियों का सामना करना पड़ा। सेलीना के ट्विंन्स में से एक बच्चे ने हार्ट डिफ्केट के कारण दम तोड़ दिया था। इस दिल तोड़ देने वाले अनुभव को सेलीना ने अपने मदर्स डे के मौके पर शेयर किया है। उन्होंने बताया कि सदमे से कारण उन्होंने अपने चलने की क्षमता को खो दिया था।

बच्चे को खोने के बाद टूट गए सेलीना और उनके पति

सेलीना जेटली ने 2012 में जुड़वा बच्चों का जन्म दिया था। इसके बाद 2017 में भी वो जुड़वा बच्चों से प्रेग्नेंट थीं। हालांकि, इनमें से एक बच्चे को बचाया नहीं जा सका, उसे दिल से जुड़ी एक गंभीर परेशानी हो गई थी। इस घटना के बाद सेलीना और उनके पति पीटर हाग बुरी तरह टूट गए थे। इस अनुभव को सेलीना ने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट पर एक पोस्ट के जरिए शेयर किया है। उन्होंने लिखा- 'मुझे आज भी याद है अपने पति पीटर का चेहरा जब हमापे प्रिय डॉक्टर ब्रेथव्हाइट ने बताया था कि हम दूसरी प्रेग्नेंसी में भी जुड़वा बच्चों को जन्म देने वाले हैं, जो अद्भुत और असामान्य था, 700-000 में एक चांस था'।

 

 

जब मिली पिता की मौत की खबर

सेलीना ने अपने पोस्ट में दोनों प्रेग्नेंसी की तस्वीरें भी शेयर की हैं और बताया है कि वो दोनों बार ही बेहद सतर्क थीं और कड़े नियमों का पालन कर रही थीं, क्योंकि उन्होंने डायबिटीज डायगनॉस किया गया था। सेलीना ने अपने पोस्ट में बताया कि किस तरह दूसरी प्रेग्नेंसी के दौरान उनके पिता के निधन की खबर ने उन्हें प्रभावित किया था। सेलीना ने लिखा- 'मेरी दूसरी ट्विन प्रेग्नेंसी के दौरान पिता को खो जेने के बाद मैंने वाकई अपने चलने की क्षमता को खो दिया था। और मुझे मेरे पति व्हीलचेयर में लेकर जाते थे। जिसकी वजह से मेरी हड्डियों पर असर पड़ा और बच्चे मेरे दिल की तरफ दब गए इसलिए सासं लेना बहुत मुश्किल होता था'।

एक साथ हुई कई दिल तोड़ देने वाली घटनाएं

सेलीना ने आगे लिखा- 'हाइपो प्लास्टिक हार्ट के कारण एक बच्चे शमशेर को खोने, एक बच्चे के तीन महीनों तक इनक्यूबेटर में रहने और मेरी मां के अचानक निधन... इन सब घटनाओं के बीच मैं मानती हूं कि मातृत्व ने मुझे वो ताकत दी, जो मुझे नहीं पता था कि मेरे पास है'। उन्होंने आगे बताया कि एक इनफेंट्री अफसर की पत्नी होने की वजह से उनकी मां ने कितने त्याग किए और अपने दो बच्चों को अकेले पाला। 
 

संबंधित खबरें