DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेप और ठगी के मामले में मिथुन की पत्नी और बेटे को नहीं मिली अंतरिम राहत

रेप और ठगी के मामले में मिथुन की पत्नी और बेटे को नहीं मिली अंतरिम राहत

बॉम्बे हाई कोर्ट ने दुष्कर्म और ठगी की एक शिकायत के सिलसिले में अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती की पत्नी और उनके बेटे को गिरफ्तारी से बचने के लिए अंतरिम राहत देने से गुरुवार को इनकार कर दिया। यह शिकायत दिल्ली की एक महिला ने दायर की है।

दिल्ली की एक अदालत ने इसी सप्ताह कहा था कि मिथुन की पत्नी योगिता बाली और उनके पुत्र महाअक्षय उर्फ मिमोह के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने और कानून के अनुसार आगे की कार्रवाई के लिए प्रथम दृष्टया पर्याप्त आधार है। दिल्ली की अदालत के आदेश के बाद महाअक्षय और उनकी मां ने बॉम्बे हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। उन्होंने अदालत से गिरफ्तारी पूर्व जमानत या राष्ट्रीय राजधानी में संबंधित अदालत से संपर्क करने तक गिरफ्तारी से अंतरिम राहत का अनुरोध किया था। 

न्यायमूर्ति अजय गडकरी ने उनकी याचिका खारिज कर दी और अंतरिम राहत प्रदान करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि गिरफ्तारी पूर्व जमानत के लिए दोनों दिल्ली में संबंधित अदालत से संपर्क कर सकते हैं। शिकायतकर्ता ने अपनी याचिका में आरोप लगाया है कि महाअक्षय ने उसके साथ ठगी की और शादी का झांसा देकर करीब चार साल तक शारीरिक संपर्क बनाने के बाद दुष्कर्म किया।

सोनाली बेंद्रे को कैंसर होने पर हुमा कुरैशी ने कही ये बड़ी बात

'सैकरेड गेम्स' में ट्रांसजेंडर का किरदार निभा रहीं कुब्रा ने शेयर किया अपना ये एक्सपीरियंस

 7 जुलाई को होनी थी शादी...

महाअक्षय 7 जुलाई को डायरेक्टर सुभाष शर्मा की बेटी मदालसा शर्मा से शादी करने जा रहे थे। पिछले महीने ही दोनों का रोका हुआ था। लेकिन शादी से पहले ही वो इन आरोपों में फंस चुके हैं, जिससे उनकी शादी अब खतरे में लग रही है।

 

फिल्म 'संजू' देखने के बाद जल्दी से दें इन आसान से सवालों के जावब

Quiz Closed

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bombay high court refuses relief to actor mithun chakraborty wife and son