फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनबिलकिस केस में दोषियों को रिहा करने पर भड़के जावेद अख्तर, कहा- ‘समाज में गंभीर रूप से गलत हो रहा है’

बिलकिस केस में दोषियों को रिहा करने पर भड़के जावेद अख्तर, कहा- ‘समाज में गंभीर रूप से गलत हो रहा है’

गुजरात का बिलकिस बानो केस सुर्खियों में है। हाल ही में गैंगरेप केस के 11 दोषियों को सरकार ने रिहा कर दिया। अब इस मामले में जावेद अख्तर ने अपनी राय साझा की है। उन्होंने घटना पर नाराजगी जाहिर की है।

बिलकिस केस में दोषियों को रिहा करने पर भड़के जावेद अख्तर, कहा- ‘समाज में गंभीर रूप से गलत हो रहा है’
Shrilataलाइव हिंदुस्तान,मुंबईFri, 19 Aug 2022 09:14 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

जावेद अख्तर बॉलीवुड की उन हस्तियों में से हैं जो खुलकर हर मुद्दे पर अपनी राय रखते हैं। गुजरात का बिलकिस बानो केस इन दिनों सुर्खियों में है। हाल ही में गैंगरेप केस के 11 दोषियों को सरकार ने रिहा कर दिया। जेल से बाहर आने के बाद विश्व हिंदू परिषद के ऑफिस में सभी को माला पहनाकर मिठाई खिलाई गई। अब इस मामले में जावेद अख्तर ने ट्विटर पर अपनी राय साझा की है। उन्होंने इस पूरे घटनाक्रम पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि समाज में जो हो रहा है यह बहुत ही गंभीर मामला है। 

जावेद अख्तर ने जताई नाराजगी


शुक्रवार को जावेद अख्तर ने अपने ट्वीट में लिखा कि ‘जिन लोगों ने 5 महीने की गर्भवती महिला के साथ, उसके 3 साल की बेटी सहित परिवार के 7 लोगों की हत्या कर रेप किया, उन्हें जेल से छूटकर मिठाई खिलाई गई और उन्हें माला पहनाई गई। जो हो रहा है उसके पीछे छिपो मत। सोचने की जरूरत है। हमारे समाज में कुछ गंभीर रूप से गलत हो रहा है।‘
 

क्या है पूरा मामला


गुजरात सरकार ने इस सप्ताह 2002 के बिलकिस बानो मामले में गैंगरेप और हत्या के दोषियों को रिहा कर दिया। दोषियों ने जेल में 15 साल से अधिक समय पूरा किया था। मुंबई में एक विशेष केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) अदालत ने 21 जनवरी, 2008 को 11 लोगों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। बाद में बॉम्बे हाईकोर्ट ने उनकी सजा को बरकरार रखा। बता दें कि साल 2002 में गुजरात के गोधरा ट्रेन में आग लगने के बाद भड़की हिंसा के वक्त बिलकिस बानो 21 साल की थी और पांच महीने की गर्भवती थी। मारे गए लोगों में उसकी तीन साल की बेटी भी शामिल थी।
 

लेटेस्ट Entertainment News के साथ-साथ TV News, Web Series और Movie Review पढ़ने के लिए Live Hindustan AppLive Hindustan App डाउनलोड करें।
epaper