DA Image
हिंदी न्यूज़ › मनोरंजन › Bigg Boss 14: रुबीना दिलैक और अभिनव शुक्ला को काम्या पंजाबी ने लगाई लताड़, कविता कौशिक के सपोर्ट में कही ये बात
मनोरंजन

Bigg Boss 14: रुबीना दिलैक और अभिनव शुक्ला को काम्या पंजाबी ने लगाई लताड़, कविता कौशिक के सपोर्ट में कही ये बात

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Saumya Tiwari
Thu, 03 Dec 2020 05:32 PM
Bigg Boss 14: रुबीना दिलैक और अभिनव शुक्ला को काम्या पंजाबी ने लगाई लताड़, कविता कौशिक के सपोर्ट में कही ये बात

एक्ट्रेस काम्या पंजाबी ने बिग बॉस-14 कंटेस्टेंट कविता कौशिक को जानबूझ कर उकसाने को लेकर रुबीना दिलैक और अभिनव शुक्ला को फटकार लगाई है। रुबीना संग जबरदस्त झगड़े के बाद कविता कौशिक खुद ही शो से बाहर निकल गई हैं। इस मामले पर रुबीना और अभिनव की अच्छी दोस्त काम्या पंजाबी ने अपना रिएक्शन दिया है।

काम्या ने एक ट्वीट में लिखा- 'मुझे कविता और रुबीना दोनों ही पसंद हैं। लेकिन रुबीना और अभिनव लगातार कविता को जानबूझकर उकसा रहे थे। जब आप खुद नेशनल टीवी पर अपनी पर्सनल लाइफ के बारे में बात करते हैं तो दूसरे से यह उम्मीद मत करिए कि वह नहीं घुसेंगे। यह गेम है और यह होगा।'

करीना और तैमूर को सोशल मीडिया में ट्रोल किए जाने पर बोले सैफ अली खान, मैं समझता हूं कहां से आती है ऐसी कुंठा

काम्या ने आगे रुबीना को उनकी जुबान पर कंट्रोल रखने की सलाह दी, जैसा कि उन्होंने कविता कौशिक को काफी बुरा-भला कहा था। काम्या लिखती हैं- 'अब रुबीना आप इतनी गुस्सा क्यों हैं? क्यों राहुल पर इतना भड़क रही हैं? क्यों आपने औरत जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया, आप नीचे जा रही हैं लड़की।'

रुबीना और कविता के बीच लड़ाई के दौरान अभिनव के बीच-बचाव न करने पर भी काम्या ने अपनी नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने लिखा- 'लड़ाई के दौरान जिन शब्दों का इस्तेमाल किया गया। अभिनव आप उन्हें रोक सकते थे। सब तमाशा देख रहे थे वहां।'

सना खान की शौहर अनस संग के साथ नई तस्वीर वायरल, एक-दूसरे के प्यार में डूबा दिखा नया नवेला कपल

 

आखिरी में काम्या ने बिग बॉस हाउस के किसी भी सदस्य के कविता को नहीं रोकने पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने लिखा- 'मैंने कभी इस तरह का सीजन और कंटेस्टेंट्स नहीं देखे हैं। अली गोनी भड़क जाते हैं और उन्हें कोई शांत नहीं करता है। वह घर में यहां से वहां जाते हैं और अब कविता कौशिक घर से निकल गई हैं। किसी ने उन्हें रोका तक नहीं। ऐसा लगता है कि सबको यही चाहिए कि कॉम्पिटिशन कम हो।'
 

संबंधित खबरें