Monday, January 17, 2022
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनभोजपुरी अभिनेत्री रानी चटर्जी को जब 'दबंग' एक्टर सलमान खान से मिली थी तारीफ

भोजपुरी अभिनेत्री रानी चटर्जी को जब 'दबंग' एक्टर सलमान खान से मिली थी तारीफ

हिन्दुस्तान ,नई दिल्लीSurya Prakash
Mon, 28 Dec 2020 10:44 AM
भोजपुरी अभिनेत्री रानी चटर्जी को जब 'दबंग' एक्टर सलमान खान से मिली थी तारीफ

रानी चटर्जी का जन्म भले ही मुंबई में हुआ था, लेकिन बॉलीवुड की बजाय उन्होंने भोजपुरी फिल्मों का रुख किया और बड़ा नाम बनीं। यहां तक कि एक बार खुद सलमान खान ने उनकी तारीफ की थी। खुद रानी चटर्जी ने एक वाकया याद करते हुए बताया था कि सिलेब्रिटी क्रिकेट लीग के दौरान उनकी मुलाकात सलमान खान से हुई थी। इस दौरान सलमान खान ने कहा था कि इनको तो मैं जानता हूं। इनके पोस्टर्स मैंने देखे हैं। रानी चटर्जी कहती हैं कि जब मैं बॉलीवुड के लोगों से मिलती हूं तो वे पूछते हैं कि क्या तुम भोजपुरी एक्ट्रेस रानी चटर्जी हो? अच्छा लगता है, जब लोग आपको नोटिस करते हैं।

अपने करियर में बॉलीवुड मूवीज न करने को लेकर रानी चटर्जी कहती हैं कि मुझे इसका कोई अफसोस नहीं है। रानी चटर्जी कहती हैं, 'मैंने बहुत छोटी उम्र में एक्टिंग शुरू कर दी थी। उस वक्त तो किसी बच्चो को यह भी पता नहीं होता कि आखिर करियर होता क्या है। जो मिल गया अच्छे से मिल गया। मैं स्टार बन गई और क्या चाहिए?' रानी चटर्जी ने कहा कि मैंने कभी सोचा ही नहीं था कि एक्टिंग में आऊंगी। मैं जब 10वीं क्लास में थीं, तब पहली मूवी की थी। एक डायरेक्टर ने हीरो के साथ मेरी एक तस्वीर देखी थी। यह तस्वीर मैंने एक फिल्म की शूटिंग के दौरान खिंचवाई थी। 

इस फोटो को देखकर ही डायरेक्टर ने मुझे मूवी ऑफर की थी। इस पर मेरा सवाल यह था कि मेरे अपोजिट एक्टर कौन होगा। डायरेक्टर ने बताया कि आप मनोज तिवारी के साथ काम करेंगी। इस तरह से करियर की शुरुआत हो गई। ससुरा बड़ा पईसावाला, दामादजी, दिलजले, छैल बाबू, देवरा बड़ा सतावेला जैसी फिल्मों में एक्टिंग करने वालीं रानी चटर्जी का फिल्मी करियर 15 साल से ज्यादा का हो चुका है। हालांकि यह बहुत कम लोग ही जानते हैं कि उनका असली नाम रानी चटर्जी नहीं है बल्कि सबिहा शेख है। यह नाम उन्होंने सिर्फ फिल्मी दुनिया के लिए रखाा है।

जानें, कैसे मिला रानी चटर्जी नाम: अपने इस नाम को लेकर भी रानी चटर्जी ने दिलचस्प किस्सा सुनाया था। रानी चटर्जी कहती हैं, 'हम 2004 में ससुरा बड़ा पईसावाला मूवी की शूटिंग कर रहे थे। इस दौरान हम एक सीन की शूटिंग के लिए मंदिर पहुंचे थे। सीन में मुझे मंदिर पर मत्था टेकना था। वहां काफी भीड़ थी। इसलिए डायरेक्टर ने सोचा कि मैं मुस्लिम हूं और मंदिर में मेरा सही नाम बताने से विवाद हो सकता है। इसके चलते उन्होंने मेरा नाम वहां रानी बताया था। इसके बाद जब उन्होंने सरनेम पूछा तो डायरेक्टर ने चटर्जी बताया। यहीं से मेरा नाम रानी चटर्जी हो गया। उस वक्त रानी मुखर्जी का काफी नाम था और फिर मैंने यही नाम अपना लिया।'

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें