फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनआशा पारेख ने शादीशुदा शख्स से प्यार करके झेला दर्द, खुद बताई थी कभी शादी नहीं करने की वजह

आशा पारेख ने शादीशुदा शख्स से प्यार करके झेला दर्द, खुद बताई थी कभी शादी नहीं करने की वजह

आशा पारेख को 2020 दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। बता दें कि आशा अपनी प्रोफेशनल लाइफ के अलावा पर्सनल लाइफ को लेकर भी काफी सुर्खियों में रहती थीं। बताते हैं उनकी लव लाइफ के बारे में।

आशा पारेख ने शादीशुदा शख्स से प्यार करके झेला दर्द, खुद बताई थी कभी शादी नहीं करने की वजह
Sushmeeta Semwalटीम लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीTue, 27 Sep 2022 02:12 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

अपने समय में बॉलीवुड की दीवा रहीं आशा पारेख ने अपने करियर में कई हिट फिल्में दी हैं। आशा हालांकि अपनी प्रोफेशनल लाइफ के साथ-साथ पर्सनल लाइफ को लेकर भी काफी सुर्खियों में रही हैं। आशा का फिल्म प्रोड्यूसर नासीर हुसैन के साथ रिलेशन था। दोनों के रिलेशनशिप की खबरें बॉलीवुड के गलियारों में खूब रहती थी। हालांकि यह रिश्ता ज्यादा समय तक चला नहीं क्योंकि नासीर शादीशुदा थे। भले ही आशा, नासीर से बेहद प्यार करती थीं, लेकिन वह अपने प्यार के खातिर किसी का घर, परिवार नहीं तोड़ना चाहती थीं। आशा ने खुद इस बात को कबूला था।

किसी का घर नहीं तोड़ना चाहती थीं

पूरी लाइफ सिंगल रहने पर आशा ने एक मैगजीन को दिए इंटरव्यू में कहा था, 'अकेले रहने का मेरा फैसला बिल्कुल सही था। मैं एक शादीशुदा आदमी को प्यार करती थी, लेकिन मैं उसका बसा-बसाया घर नहीं तोड़ना चाहती थी। मैं उसके बच्चों को टॉर्चर नहीं कर सकती थी। यही वजह है कि मैंने अपने प्यार को उसके परिवार के लिए नजरअंदाज किया। देखिए समय और परिस्थितियां ही सब होती हैं। जो होना होता है, उसे आप रोक नहीं सकते। जो आपकी किस्मत में नहीं है उसे आप रख नहीं सकते।' 

दोबारा हुआ फिर वही किस्सा

आशा ने एक बार यह भी बताया था एक बार वह शादी करने ही वाली थीं, लेकिन उनके साथ पुराना किस्सा दोबारा हुआ। उन्होंने कहा था, मैं एक प्रोफेसर के काफी करीब आ गई थी जो यूएस में रहते थे और उनसे शादी भी करना चाहती थी। मैं उनसे कई बार मिली। हम एक दिन कैफे में बैठे थे और उन्होंने मुझसे कहा कि मेरी एक गर्लफ्रेंड है और आप रास्ते में आ गई। 

इस किस्से के बाद आशा ने फिर कभी शादी नहीं करने के अपने फैसले को जारी रखा। आशा का कहना था कि शायद उनकी किस्मत में ही नहीं था शादी होना। उन्होंने कहा था, मैं भी शादी करना चाहती थी और चाहती थी कि मेरे भी बच्चे हों। लेकिन ऐसा हुआ नहीं। हालांकि मुझे इस पर अब कोई पछतावा नहीं है।

Dada Saheb Phalke Award: आशा पारेख के अभिनय को सिनेमा का सर्वोच्च सम्मान, मिलेगा दादा साहेब

मां का रह गया सपना अधूरा

आशा की मां भी हार मान गई थीं। एक्ट्रेस ने बताया था कि उनकी मां ने उनके लिए कई लड़के देखे, लेकिन उन्हें वह अपने लिए सही नहीं लगे। इतना ही नहीं एक समय के बाद तो उनकी मां भी हार मान गईं। वह जिस किसी के साथ मेरी कुंडली दिखवातीं तो यही कहा जाता कि मेरी उस शख्स के साथ शादी नहीं चलेगी। 
 

लेटेस्ट Entertainment News के साथ-साथ TV News, Web Series और Movie Review पढ़ने के लिए Live Hindustan AppLive Hindustan App डाउनलोड करें।
epaper