DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   मनोरंजन  ›  सुशांत सिंह राजपूत के साथ एक ही बिल्डिंग में रहते थे अर्जुन बिजलानी, कहा- 'आखिरी मैसेज का नहीं मिला था जवाब'
मनोरंजन

सुशांत सिंह राजपूत के साथ एक ही बिल्डिंग में रहते थे अर्जुन बिजलानी, कहा- 'आखिरी मैसेज का नहीं मिला था जवाब'

लाइव हिन्दुस्तान,मुंबईPublished By: Shrilata
Sun, 13 Jun 2021 07:37 AM
सुशांत सिंह राजपूत के साथ एक ही बिल्डिंग में रहते थे अर्जुन बिजलानी, कहा- 'आखिरी मैसेज का नहीं मिला था जवाब'

टीवी अभिनेता अर्जुन बिजलानी और सुशांत सिंह राजपूत बहुत अच्छे दोस्त हुआ करते थे। यही नहीं करियर के शुरुआती दौर में तो अर्जुन उनके पड़ोसी थे। दिवंगत अभिनेता की पुण्यतिथि आने वाली है तो अर्जुन ने उनकी कुछ यादें शेयर की हैं।

एक ही बिल्डिंग में रहते थे
अर्जुन ने बताया कि किस तरह वो अपने प्रोजेक्ट्स से लेकर अन्य बातें शेयर करते थे। हालांकि जब सुशांत दूर रहने चले गए तो दोनों के बीच बातचीत भी कम हो गई। टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए अर्जुन कहते हैं कि ‘सुशांत एक खुश रहने वाला इंसान था। वह मेरा बहुत अच्छा दोस्त था क्योंकि हम एक ही बिल्डिंग में रहते थे और लगातार अपने प्रोजेक्ट्स पर बात करते थे।‘ बता दें कि दोनों पहले मलाड में एक बिल्डिंग में रहते थे। बाद में सुशांत बांद्रा में शिफ्ट हो गए थे।

लंबा वक्त साथ बिताया
अर्जुन आगे कहते हैं कि ‘मुझे याद है हम उसकी बालकनी या मेरी बालकनी से बात करते हुए टाइम बिताते थे। काम और हमारी आकांक्षाओं पर चर्चा करते थे। वह हमेशा कहता था कि छोटी-छोटी चीजों ने उसे कभी परेशान नहीं किया और अपने सपनों को हासिल करने के लिए सभी मुश्किलों से लड़ेगा। मुझे वह समय याद है जब उसने “काई पो छे” में भूमिका निभाई थी, वह टीवी से फिल्मों में जाने को लेकर पूरी तरह तैयार था। वह बहुत एक्साइटेड था।‘ 

बाइक्स का शौक था
अर्जुन बताते हैं कि ‘हम दोनों को बाइक्स का काफी शौक था। एक दिन उसने मुझसे कहा “अर्जुन नीचे आओ मैं तुम्हें कुछ दिखाता हूं।“ जब मैं नीचे गया तो मैंने देखा एक शानदार बाइक उसने खरीदी थी। उसके बाद हम साथ में राइड पर गए। वो दिन काफी मजेदार थे।‘

आखिरी मैसेज का नहीं मिला जवाब
‘मुझे याद नहीं आ रहा कब मैं आखिरी बार उससे मिला था लेकिन मुझे याद है कि पिछले साल 29 मई को मैंने उसे मैसेज किया था क्योंकि वो बहुत दिनों से दिखाई नहीं दिया था और उसके बारे में जानना चाहता था। मैंने उसे मैसेज भेजा लेकिन उसने कभी जवाब नहीं दिया। मैं उसे एक भावुक इंसान के रूप में याद करता हूं। एक खुश रहने वाला, टैलेंटेड लड़का सुशांत, अब हमारी जिंदगी से गायब है। मैं प्रार्थना करता हूं वो जहां कहीं भी है खुश रहे।‘ 
 

संबंधित खबरें