फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजन‘प्री-प्लानिंग लग रहा, टूलकिट गैंग सक्रिय’, ‘कश्मीर फाइल्स’ को प्रोपेगेंडा बताने पर बरसे अनुपम खेर

‘प्री-प्लानिंग लग रहा, टूलकिट गैंग सक्रिय’, ‘कश्मीर फाइल्स’ को प्रोपेगेंडा बताने पर बरसे अनुपम खेर

इजराइली फिल्म निर्माता Nadav Lapid ने ‘द कश्मीर फाइल्स‘ को ‘प्रोपेगेंडा और वल्गर‘ फिल्म बताया। जिसके बाद अनुपम खेर ने ट्वीट किया। वहीं फिल्म के एक्टर दर्शन कुमार ने इस बयान से दुखी हैं।

‘प्री-प्लानिंग लग रहा, टूलकिट गैंग सक्रिय’, ‘कश्मीर फाइल्स’ को प्रोपेगेंडा बताने पर बरसे अनुपम खेर
Shrilataलाइव हिंदुस्तान,मुंबईTue, 29 Nov 2022 09:46 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

गोवा में आयोजित भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (IFFI) सोमवार को खत्म हो गया। क्लोजिंग सेरेमेनी में जूरी के उस बयान से हंगामा मच गया जब फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स‘ को ‘प्रोपेगेंडा और वल्गर‘ फिल्म बताया। इजराइली फिल्म निर्माता Nadav Lapid ने कहा कि कहा कि वो इस बात से परेशान और हैरान थे कि फिल्म को कार्यक्रम में दिखाया गया था। उन्होंने कहा कि यह एक प्रोपेगेंडा की तरह लग रही थी। सोशल मीडिया पर Nadav Lapid का वीडियो वायरल हो गया। ‘द कश्मीर फाइल्स‘ ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा। अब इस पर फिल्म  के कलाकारों और मेकर्स  की ओर से प्रतिक्रिया आने लगी है।

अनुपम खेर ने किया ट्वीट

‘द कश्मीर फाइल्स’ को प्रोपेंडा बताने पर अनुपम खेर ने ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, ‘झूठ  का कद कितना भी ऊंचा क्यों ना हो, सत्य के मुकाबले में हमेशा छोटा ही होता है।ट अनुपम खेर ने ट्वीट में ‘द कश्मीर फाइल्स‘ से अपनी तस्वीर शेयर की।

अनुपम खेर मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे थे। समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए अनुपम खेर ने कहा, ‘भगवान उन शख्स को सद्बुद्धि दे। गणपति जी उन्हें सद्बुद्धि दे, थोड़ी अक्ल दे। मंदिर के बाहर इस तरह की बात करना बिल्कुल भी ठीक नहीं है।‘ आगे उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है यह प्री प्लानिंग है। इसके तुरंत बाद टूलकिट गैंग सक्रिय हो गया है। इस तरह का बयान शर्मनाक है।‘

बयान से दुखी दर्शन कुमार

फिल्म के एक्टर दर्शन कुमार ने ईटाइम्स से बातचीत में कहा, ‘जो कुछ भी देखते और सुनते हैं उस पर हर किसी का ओपिनियन होता है लेकिन इस तथ्य से इनकार नहीं किया जा सकता कि द कश्मीर फाइल्स एक ऐसी फिल्म है जो एक समुदाय कश्मीरी पंडितों की दुर्दशा को दिखाता है। वो अभी भी आतंकवाद के खिलाफ न्याय के लिए लड़ रहे हैं।‘ उन्होंने कहा, ‘यह फिल्म अश्लीलता पर नहीं सच्चाई पर है।‘

फिल्म के समर्थन में अशोक पंडित

फिल्ममेकर अशोक पंडित ने जूरी के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि इस तरह के बयान पर उन्हें आपत्ति है। वह लिखते हैं, ‘Nadav Lapid ने कश्मीर फाइल्स के लिए जिस भाषा का इस्तेमाल किया उस पर कड़ी आपत्ति है। 3 लाख कश्मीरी हिंदुओं के नरसंहार को दिखाना अश्लील नहीं कहा जा सकता। मैं एक फिल्म निर्माता और एक कश्मीरी पंडित  के रूप  में आतंकवाद के पीड़ितों के प्रति इस शर्मनाक एक्ट की निंदा करता हूं।‘

साल की सफल फिल्मों में से एक

बता दें कि विवेक अग्निहोत्री द्वारा निर्देशित ‘द कश्मीर फाइल्स’ इस साल की शुरुआत मंक रिलीज हुई थी। फिल्म में अनुपम खेर, पल्लवी जोशी, मिथुन चक्रवर्ती और दर्शन कुमार ने मुख्य भूमिका निभाई। फिल्म की कहानी 90 के दशक में कश्मीरी पंडितों के नरसंहार की कहानी है। यह साल 2022 की सबसे सफल फिल्मों में से एक है। 

लेटेस्ट Entertainment News के साथ-साथ TV News, Web Series और Movie Review पढ़ने के लिए Live Hindustan AppLive Hindustan App डाउनलोड करें।