DA Image
29 अक्तूबर, 2020|2:34|IST

अगली स्टोरी

फिजिकल ट्रांसफॉर्मेशन से गुजर रहे आमिर खान को सतायी मां की याद, इस काम के लिए आधी रात को मिलने पहुंचे घर

aamir khan

आमिर खान (Aamir Khan) को बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट के तौर पर जाना जाता है। आमिर खान इन दिनों अपनी आगामी फिल्म फिल्म 'लाल सिंह चड्ढा (Lal Singh Chaddha) को लेकर खबरों में छाए हुए हैं। इस फिल्म के लिए आमिर खान फिजिकल ट्रांसफॉर्मेशन से गुजर रहे हैं। खबरों की मानें इन दिनों वह शाकाहारी भोजन खा रहे हैं। हालांकि की उन्होंने अपनी मां जीनत हुसैन के हाथ का बना भोजन खाने के लिए आधी रात को घर पहुंच गए। 

BIGG BOSS 13: घर में जाने से पहले सलमान के सामने भिड़े दो कंटेस्टेंट्स, जानिए क्यों?

मिड डे की एक रिपोर्ट के अनुसार, आमिर अक्सर अपनी माँ ज़ीनत के घर अपने पसंदीदा कबाबों के लिए जाते हैं। एक सूत्र का हवाला देते हुए, रिपोर्ट में कहा गया है कि आमिर इन दिनों अपने फिजिकल ट्रांसफॉर्मेशन के लिए प्रोटीन युक्त आहार खा रहे हैं। उनके खाने की लिस्ट में उबले हुई या हरी सब्जियां, साग, फल, टोफू, दाल, और मल्टीग्रेन रोटियां शामिल है। रिपोर्ट की मानें तो आमिर खान उबली हुई सब्जियां और फल खा-खा कर उब गए हैं। ऐसे में वह अपनी पसंदीदा खाना खाने के लिए तरस गए हैं। शायद यही कारण है कि वह अपनी मां के हाथ का बना कबाब खाने के लिए वह आधी रात को निकल गए । रिपोर्ट की मानें तो आमिर खान की मां मुंबई के बांद्रा में रहती हैं। उनकी जब ये पता चला की वह इन दिनों शाकाहारी भोजन खा रहे हैं तो उन्होंने अपने बेटे के लिए उनकी पंसद को ख्यान रखते हुए बेज कबाब बनाया। 

दिग्गज एक्टर विजू खोटे का निधन, 'शोले' में 'कालिया' बनकर जीता था दर्शकों का दिल

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फिल्म 'लाल सिंह चड्ढा' का खुलासा आमिर खान ने अपने जन्मदिन के दिन किया था। इस फिल्म में  आमिर के साथ करीना कपूर भी नजर आने वाली हैं। अतुल कुलकर्णी द्वारा लिखित यह फिल्म अद्वैत चंदन द्वारा निर्देशित की जाएगी है और इसे वायाकॉम18 स्टूडियोज़ और आमिर खान प्रोडक्शंस द्वारा निर्मित किया जाएगा। फिल्म अगले साल 2020 की क्रिसमस के अवसर पर रिलीज होने के लिए तैयार है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Aamir Khan visits to mother Zeenat home for eating favourite kebabs during his physical transformation for Lal Singh Chadha