Hindi Newsएंटरटेनमेंट न्यूज़72 Hoorain Social Media Controversy Users Call it Anti Muslim and Anti Islamic Film - Entertainment News India

72 Hoorain: TKS के बाद अब '72 हूरें' पर बढ़ रहा विवाद, लोग बोले एंटी मुस्लिम है फिल्म

'द केरल स्टोरी' और 'द कश्मीर फाइल्स' के बाद अब फिल्म '72 हूरें' रिलीज से पहले ही विवादों में आ गई है। फिल्म का अभी सिर्फ टीजर रिलीज किया गया है और इसे IMDb पर 7.5 रेटिंग मिली हुई है।

Puneet Parashar लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीTue, 6 June 2023 08:06 PM
हमें फॉलो करें

'द कश्मीर फाइल्स' और 'द केरल स्टोरी' के बाद अब अपकमिंग फिल्म '72 हूरें' रिलीज से पहले ही विवादों में आ गई है। फिल्म का अभी सिर्फ टीजर रिलीज हुआ है और सोशल मीडिया पर अभी से इस फिल्म को लेकर जरबदस्त विरोध होने लगा है। टीजर के आधार पर कहा जा सकता है कि फिल्म की कहानी में दिखाया जाएगा कि किस तरह मासूम युवाओं को गुमराह करके और उनका ब्रेनवॉश करके उन्हें आतंक के रास्ते में ले जाया जाता है।

72 हूरें को लेकर शुरू हो गया विरोध
संजय पूरन सिंह चौहान के निर्देशन में बनी यह फिल्म सोशल मीडिया पर हंगामे की वजह बन गई है। रिलीज से पहले ही फिल्म को IMDb पर भले ही 8.5 रेटिंग मिल गई हो, लेकिन सोशल मीडिया पर एक खेमा इसे इस्लाम की छवि खराब करने वाली फिल्म बता रहा है। कुछ लोगों ने इसे एक प्रोपेगैंडा फिल्म बताया है तो किसी ने कहा है कि इस तरह की फिल्मों के जरिए देश में दो धर्मों के बीच नफरत फैलाने का काम किया जा रहा है।

'सच में 72 हूरों की सच्चाई पता होती तो...'
फिल्म के को-डायरेक्टर अशोक पंडित ने रविवार को फिल्म का टीजर रिलीज करते हुए लिखा था कि जैसा वादा किया था, हम पेश कर रहे हैं आपके लिए 72 हूरें का फर्स्ट लुक। मुझे विश्वास है कि आपको यह फिल्म पसंद आएगी। यह फिल्म सिनेमाघरों में 7 जुलाई 2023 को रिलीज होगी। एक यूजर ने इस फिल्म का विरोध करते हुए लिखा- 72 हूरें सिर्फ मुसलमानों को बदनाम करने के लिए बनाई गई है। अगर इन्हें सच में 72 हूरों की सच्चाई पता होती तो अल्हमदुल्लाह ये लोग अब तक इस्लाम क़ुबूल कर चुके होते।

'सुप्रीम कोर्ट आगे भी बिजी रहने वाला है'
बता दें कि फिल्म फेस्टिवलों में इस फिल्म को पहले ही दिखाया जा चुका है और उसी आधार पर इस फिल्म को IMDb रेटिंग पहले ही दी जा चुकी है। बता दें कि फिल्म के टीजर में अजमल कसाब और ओसाबा बिन लादेन की तस्वीरें दिखाते हुए कहा गया है कि इन लोगों ने हजारों बेगुनाहों की जान ले ली, किसलिए? 72 हूरों के लिए। एक यूजर ने सोशल मीडिया पर कमेंट किया कि सुप्रीम कोर्ट आगे भी इस तरह की फिल्मों पर फैसला सुनाने के लिए बिजी रहने वाला है।

लेटेस्ट Hindi News, Entertainment News के साथ-साथ TV News, Web Series और Movie Review पढ़ने के लिए Live Hindustan App डाउनलोड करें।
ऐप पर पढ़ें