Hindi Newsएंटरटेनमेंट न्यूज़Kangana Ranaut talks about satyug after Elon Musk Neuralink telepathy implanting first brain chip in human

एलन मस्क लाए दिमाग से फोन चलाने वाली टेक्नॉलजी, कंगना बोलीं- सतयुग में होता था, नास्तिक लोग...

  • Kangana Ranaut Tweet: कंगना रनौत ने एलन मस्क की नई टेक्नॉलजी की तुलना हमारे वेदों में वर्णित उस विद्या से की है जिससे ऋषि और देवता बिना बोले मन की बात जान जाते थे। उन्होंने लिखा सतयुग में ऐसा होता था।

Kajal Sharma लाइव हिन्दुस्तानTue, 30 Jan 2024 03:48 PM
हमें फॉलो करें

कंगना रनौत को कलियुग में सतयुग आने का इंतजार है। दरअसल एलन मस्क ने ऐसी टेक्नॉलजी के बारे में ट्वीट किया जिससे दिमाग में सोचने पर फोन और कंप्यूटर चल सकेंगे। कंगना ने इसकी तुलना सतयुग से की है। उन्होंने लिखा है कि नास्तिक लोगों को धर्मग्रंथों पर भरोसा नहीं होता। कंगना लिखती हैं कि हमारे देवता और ऋषि ये सब टेक्नॉलजी यूज करते थे। जल्द ही ये सब फिर से देखने को मिलेगा।

एलन मस्क ने किया ट्वीट

एलन मस्क के एक ट्वीट के बहाने कंगना रनौत को हमारे ऋषि और देवता याद आ गए। एलन ने ट्वीट किया था कि पहला न्यूरालिंक प्रोडक्ट टेलीपैथी है। इससे आप बस सोचकर फोन या कंप्यूटर और उनसे कोई भी डिवाइस कंट्रोल कर सकेंगे। शुरुआती यूजर वो होंगे जिन्होंने कोई अंग खो दिया है। सोचिए स्टेफन हॉकिन्स अगर किसी स्पीड टाइपिस्ट या ऑक्शनियर से तेज बोल सकते। यही गोल है।

कंगना बोलीं नास्तिकों को समझाना मुश्किल

इसे रीट्वीट करके कंगना ने लिखा है, सतयुग को प्रमुख रूप से बिना बोले बातचीत करने वाली इसी टेक्नॉलजी/योग्यता की वजह से याद किया जाता है। अगर हम यह अपने जीवन में देख लेते हैं तब उस तकनीकी की कल्पना की जा सकती है जो हमारे देवता और ऋषि इस्तेमाल करते थे जिनका वर्णन धर्मग्रंथों में है। क्योंकि कई सारे कथित नास्तिक लोगों के लिए इस बात को समझना बड़ा चैलेंज है क्योंकि वे जानते ही नहीं हैं, या देखा नहीं है। क्योंकि हमारे वेदों की हर चीज उन्हें झूठी लगती है। वैसे अब ये भी ज्यादा दूर नहीं है।

लेटेस्ट Hindi News, Entertainment News के साथ-साथ TV News, Web Series और Movie Review पढ़ने के लिए Live Hindustan App डाउनलोड करें।
ऐप पर पढ़ें