Hindi Newsमनोरंजन न्यूज़गॉसिपPankaj Udhas Last Rites Date and Time Revealed by Daughter Nayaab Udhas

Pankaj Udhas Funeral: कब-कहां होगा पंकज उधास का अंतिम संस्कार? परिवार ने दीं ये जानकारियां

  • Pankaj Udhas Last Rites Date and Time: गजल गायक पंकज उधास की बेटी नायाब उधास ने एक सोशल मीडिया पोस्ट करके पिता के अंतिम संस्कार से जुड़ी जानकारियां शेयर की हैं ताकि उनके फैंस और शुभचिंतकों को अंतिम यात्रा में शरीक होने का मौका मिल सके।

Pankaj Udhas Funeral: कब-कहां होगा पंकज उधास का अंतिम संस्कार? परिवार ने दीं ये जानकारियां
Puneet Parashar लाइव हिन्दुस्तानTue, 27 Feb 2024 06:18 AM
हमें फॉलो करें

Pankaj Udhas Funeral Date and Time: दिग्गज गजल गायक पंकज उधास का सोमवार को मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में निधन हो गया। उनका यूं अचानक चले जाना उनके फैंस और करोड़ों शुभचिंतकों के लिए किसी सदमे से कम नहीं था। पंकज उधास के परिवार ने उनके चाहने वालों को ध्यान में रखते हुए अंतिम संस्कार से जुड़ी जानकारियां शेयर की हैं। पंकज उधास की बेटी नायाब उधास ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट करके पिता की अंतिम यात्रा के बारे में लिखा है।

कब होगा पंकज उधास का अंतिम संस्कार?

नायाब ने अपनी पोस्ट में लिखा, "पद्मश्री पंकज उधास की याद में। बहुत भारी मन से आपको यह बताना पड़ रहा है कि लंबी बीमारी के बाद 26 फरवरी 2024 को उनका निधन हो गया है। अंतिम संस्कार 27 फरवरी दिन मंगलवार को शाम 3 से 5 बजे के बीच होगा। वेन्यू- हिंदू क्रिमेटोरियम, वोर्ली (मुंबई), लैंडमार्क अपोजिट फोर सीजन्स, डॉक्टर ई मोजेस रोड, वोर्ली। उधास परिवार की ओर से।"

अनूप जलोटा ने याद किए साथ गुजारे दिन

भजन सम्राट अनूप जलोटा ने द इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत में बताया कि दिग्गज सिंगर पंकज उधास कैंसर से पीड़ित थे। उन्होंने बताया कि सिंगर को पैनक्रिएटिक कैंसर था। इस बीमारी से जीत पाना आसान नहीं था। अनूप जलोटा ने बताया कि पिछले 5-6 महीने में पंकज उधार और उनके परिवार ने क्या चुनौतियां झेली हैं उससे वो परिचित रहे हैं। अनूप ने गजल गायक के साथ अपनी 45 साल पुरानी दोस्ती के बारे में भी जिक्र किया।

पंकज पीछे छोड़ गए पत्नी और दो बेटियां

पंकज उधास अपने पीछे पत्नी फरीदा और दो बेटियों (रेवा और नायाब) को छोड़ गए हैं। पंकज उधास का जाना गजल गायकी के एक युग का अंत है। दुनिया भर में उनके करोड़ों चाहने वाले थे और उन्होंने एक लंबे दौर तक लोगों को अपनी गायकी से मंत्र-मुग्ध किया है।

ऐप पर पढ़ें