Hindi Newsमनोरंजन न्यूज़फिल्म रिव्यूTeri Baaton Mein Aisa Uljha Jiya Review Shahid Kapoor Kriti Sanon Directed by Amit Joshi and Aradhana Sah Robotice Drama

TBMAUJ Review: कॉमेडी के नाम पर दर्शकों के साथ हुआ धोखा, कमजोर साबित हुई शाहिद-कृति सेनन की रोबोटिक लव स्टोरी

  • डायरेक्टर अमित जोशी और आराधना शाह अपनी फिल्म 'तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया' फिल्म में पहली बार आपको कृति सेनन और शाहिद कपूर की जोड़ी देखने को मिलेगी। फिल्म भले ही विज्ञान-फाई रोमांटिक कॉमेडी से भरी हुई है, लेकिन इसकी कहानी और कॉमेडी पूरी तरह से कमजोर नजर आ रही है।

Monika Rawal Kukreja लाइव हिन्दुस्तानFri, 9 Feb 2024 12:23 PM
हमें फॉलो करें

फिल्म – तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया

डायरेक्टर– अमित जोशी और आराधना शाह

स्टारकास्ट– शाहिद कपूर, कृति सेनन, धर्मेंद्र, डिंपल कपाड़िया, राकेश बेदी, अनुभा फतेहपुरिया, राजेश कुमार, राशुल टंडन

Teri Baaton Mein Aisa Uljha Jiya Review: हमेशा ही एक जैसी फिल्में और कहानियों को दर्शकों के सामने परोसा जाए तो वो बोर हो जाते हैं। ऐसे में लीक से हटकर कहानियां सोचना और उसे बेहतरीन ढंग से पेश करना एक नई ताजगी के समान होता है। आज दर्शक एक फ्रेश कहानी देखना चाहते हैं और कुछ ऐसी ही सोच के साथ डायरेक्टर अमित जोशी और आराधना शाह अपनी फिल्म 'तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया' लेकर आए हैं। फिल्म में पहली बार आपको कृति सेनन और शाहिद कपूर की जोड़ी देखने को मिलेगी। फिल्म भले ही विज्ञान-फाई रोमांटिक कॉमेडी से भरी हुई है, लेकिन इसकी कहानी और कॉमेडी पूरी तरह से कमजोर नजर आ रही है।

क्या है फिल्म की कहानी?

फिल्म में कहानी की बात करें तो इसमें प्रयोग के नाम पर कुछ और ही परोस दिया गया है। फिल्म में एक इंसान और रोबोट की प्रेम कहानी को दिखाया गया है। अमित जोशी और आराधना साह अपनी इस फिल्म की कहानी को लिखते वक्त पता नहीं क्या सोच रहे थे। उन्होंने भले ही इसको लिखते वक्त कुछ बेहतर करने की कोशिश की होगी, लेकिन इसका परिणाम कुछ और ही निकलकर सामने आया है। फिल्म में एक रोबोटिक्स इंजीनियर आर्यन अग्निहोत्री (शाहिद कपूर) के मन में सिफ्रा (कृति सेनन) नाम के एक रोबोट के लिए एक अलग ही फीलिंग्स पनपने लगती है जो बाद में प्यार में बदल जाती है। लेकिन वो इस बात से अंजान होता है कि वो एक रोबोट से प्यार से कर बैठता है। ये रोबोट उसकी मौसी उर्मिला (डिंपल कपाड़िया), जो एक रोबोटिक्स कंपनी की मालिक होती हैं उनका एक एक्सपेरिमेंट प्रक्रिया में शामिल होता है। जब तक आर्यन को सिफ्रा के बारे में सच पता चलता है, तब तक बहुत देर हो जाती है। वो सिफरा को अपने पूरे परिवार से मिला चुका होता है और घर में शादी की रस्में भी शुरू हो जाती हैं। लेकिन सच जानने के बाद भी आर्यन, सिफ्रा के लिए अपना प्यार कम नहीं कर पाता है। इसी उधेड़बुन में उलझी है शाहिद और कृति सेनन की 'तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया'  फिल्म की कहानी।

कैसा है फिल्म का डायरेक्शन?

'तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया' के डायरेक्शन की बात करें तो फिल्म का निर्देशन अमित जोशी और आराधना शाह ने किया है। मूवी के फर्स्ट हाफ में आपको कई सीन देखकर ऐसा लगेगा कि इसके जबरदस्ती डाला गया है, लेकिन सेकंड हाफ में आपको हंसने का काफी मौका मिलेगा। ये आपको लास्ट तक थोड़ा एंगेज करके रखेगा। इसके साथ आपको फिल्म में इमोशन, लव, ड्रामा और एक्शन भी देखने को मिलेगा। कुल मिलाकर डायरेक्शन ठीक-ठाक है। सभी कैरेक्टर्स को स्क्रीन पर बराबर स्पेस दिया गया है। इसकी वजह से आप पूरी फिल्म से जुड़े रहते हैं।

कमाल के हैं गानें और म्यूजिक

फिल्म 'तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया' की कहानी भले ही आपको इंप्रेस करे या ना करे, लेकिन इसके गाने काफी जबरदस्त हैं, जो इस सीजन शादी और पार्टी में जमकर बजने वाले हैं। फिल्म में 'लाल पीली अंखियां', 'अंखियां गुलाब', 'तुम से' और 'तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया' टाइटल सॉन्ग आपको झूमने पर मजबूर कर देंगे। इस फिल्म को मैडॉक फिल्म्स प्रोडक्शन द्वारा बनाया गई है। इसका निर्माण दिनेश विजान, ज्योति देशपांडे और लक्ष्मण उतेकर ने किया है। फिल्म में शाहिद कपूर और कृति सेनन के अलावा धर्मेंद्र, डिंपल कपाड़िया, राकेश बेदी, अनुभा फतेहपुरिया, राजेश कुमार, राशुल टंडन जैसे कलाकार लीड रोल में नजर आ रहे हैं।

ऐप पर पढ़ें