DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजन फिल्म रिव्यूTryst with Destiny Review: समाज के अनछुए मुद्दों को उठाती है 'ट्रिस्ट विद डेस्टिनी', लेकिन....

Tryst with Destiny Review: समाज के अनछुए मुद्दों को उठाती है 'ट्रिस्ट विद डेस्टिनी', लेकिन....

अविनाश सिंह पाल, हिन्दुस्तान,मुंबईAvinash Singh
Fri, 05 Nov 2021 05:17 AM
Tryst with Destiny Review: समाज के अनछुए मुद्दों को उठाती है 'ट्रिस्ट विद डेस्टिनी', लेकिन....

फिल्म: ट्रिस्ट विद डेस्टिनी (एंथोलॉजी)
ओटीटी: सोनी लिव
निर्देशक: प्रशांत नायर
प्रमुख कास्ट: विनीत कुमार सिंह, जयदीप अहलावत, आशीष विद्यार्थी और अमित सियाल

क्या है कहानी: सोनी लिव की 'ट्रिस्ट विद डेस्टिनी' एक एंथोलॉजी है। 'ट्रिस्ट विद डेस्टिनी' में कुल चार शॉर्ट कहानिया हैं, जो समाज के अलग अलग मुद्दों पर रोशनी डालती हैं। इस एंथोलॉजी में विनीत कुमार सिंह, जयदीप अहलावत, आशीष विद्यार्थी, और अमित सियाल अहम भूमिकाओं में नजर आएंगे।आशीष विद्यार्थी स्टारर कहानी एक ऐसे शख्स की कहानी है, जिसके पास सब कुछ है, लेकिन गोरा रंग नहीं है। इसके बाद विनीत कुमार सिंह की कहानी में जाति भेदभाव और अमीरी गरीबी का भेदभाव दिखाया है। वहीं जयदीप अहलावत एक ऐसे ट्रैफिक पुलिसकर्मी का किरदार निभा रहे, जो मुंबई में एक वन बीएचके फ्लैट के लिए जूझ रहा है।

कैसा है निर्देशन और एक्टिंग: 'ट्रिस्ट विद डेस्टिनी' में सभी किरदारों ने अपने- अपने किरदारों के साथ पूरा न्याय किया है। चाहें काले रंग की जद्दोजहद से जूझते आशीष विद्यार्थी हो, या फिर फ्लैट के लिए परेशान जयदीप अहलावत। हर एक अभिनेता ने अपना बेस्ट दिया है, जो आपको बांधे रखता है। हालांकि स्क्रिप्ट और निर्देशन थोड़ा अधिक बेहतर हो सकता था।

देखें या नहीं: 'ट्रिस्ट विद डेस्टिनी' में जो चार कहानिया हैं, उनसे एक तीखा मैसेज समाज को दिया गया है, जिसके लिए इस एंथोलॉजी को देखना जरूर बनता है।  'ट्रिस्ट विद डेस्टिनी' की चारों कहानियां आखिर में आपस में जुड़ती हैं, जिससे समझ आता है कि हमारे समाज में सब कुछ कनेक्टिड है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें