DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजस्थान चुनाव 2018: मरुस्थल में मीलों चलकर वोट डालने पहुंचे मतदाता

Rajasthan assembly elections 2018: 72.17% voter turnout till 5pm

सीमावर्ती बाड़मेर और जैसलमेर जिलों में शुक्रवार को लोग वोट डालने के लिए मरुस्थल में मीलों का फासला तय कर मतदान केंद्रों पर पहुंचे। दोनों ही जिलों की सीमाएं पाकिस्तान से लगती हैं और वे थार मरुस्थलीय क्षेत्र का हिस्सा हैं। इन केंद्रों पर मतदाता खासकर महिलाएं बड़ी संख्या में नजर आईं।  वहीं बारन जिले में चिपबादौड़ के सुखनैर गांव के लोग मतदान से दूर रहे। उन्होंने कहा कि वे किसी भी राजनीतिक दल से संतुष्ट नहीं हैं। एक ग्रामीण ने कहा कि किसी भी दल ने स्थानीय मुद्दों के प्रति कोई चिंता नहीं दिखायी।

Rajasthan Exit Polls 2018: चार सर्वे के मुताबिक कांग्रेस को बहुमत के आसार

जोधपुर में 114 वर्ष की महिला ने किया मतदान
जयपुर।जोधपुर में 114 वर्ष की दाखा देवी तथा चित्तौड़गढ जिले के निम्बाहेड़ा क्षेत्र में 107 वर्ष की टांकु देवी ने मतदान किया। जोधपुर के बरकतुल्ला खां स्टेडियम में स्थित मतदान केंद्र में गोद में उठाकर लाये उनके पौत्र ने दाखा देवी को मतदान कराया। दाखा की नब्बे साल की बेटी बिरमी देवी ने भी मतदान किया। चित्तौड़गढ़ जिले के निम्बाहेड़ा के बड़ी सादड़ी में हुड़तिया कुंडाल मतदान केंद्र 107 वषीर्य टांकु बाई ने अपने परिजनों की मदद से मतदान किया। 101 साल की पाली देवी ने बाड़मेर में एक मतदान केंद्र पर वोट डाला। 

Rajasthan exit polls 2018 live: राजस्थान में कांग्रेस को बढ़त के आसार

बूंदी जिले के हिंडोली में 102 साल की किसनी बाई मतदान करने के लिए छड़ी की मदद से मतदान केंद्र पर पहुंचीं। हिंडोली के साथुर और मांडी मतदान केंद्रों पर करीब एक घंटे की देरी से मतदान शुरु हुआ। जिले के अन्य क्षेत्रों मे मतदान की गति धीमी थी और ज्यादातर मतदान केंद्रों पर लंबी लंबी कतारें लग गयीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Rajasthan polls 2018: Voters walk miles through desert to cast votes