फोटो गैलरी

Hindi News चुनाव लोकसभा चुनाव 2024सोनिया गांधी ने छोड़ा रायबरेली का रण, वहीं अमेठी में होगा स्मृति ईरानी का 'गृह प्रवेश'

सोनिया गांधी ने छोड़ा रायबरेली का रण, वहीं अमेठी में होगा स्मृति ईरानी का 'गृह प्रवेश'

UP: भाजपा के अमेठी प्रवक्ता गोविंद चौहान ने कहा, "स्मृति ईरानी ने 2014 के लोकसभा चुनाव में अमेठी के लोगों से अमेठी में घर बनाने और स्थानीय निवासी के रूप में बसने का अपना वादा पूरा किया है।"

सोनिया गांधी ने छोड़ा रायबरेली का रण, वहीं अमेठी में होगा स्मृति ईरानी का 'गृह प्रवेश'
Himanshu Jhaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली।Sat, 17 Feb 2024 12:03 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस नेता सोनिया गांधी ने अपनी संसदीय सीट रायबरेली की रेस से औपचारिक रूप से खुद को अलग कर लिया है। वहीं अमेठी सीटल से भाजपा सांसद और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी वहां स्थानीय निवासी के रूप में बसने की तैयारी कर रही हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के राहुल गांधी को हराने वाली ईरानी ने गौरीगंज में अपने लिए एक घर बनवाया है। 22 फरवरी को गृह प्रवेश का आयोजन रखा गया है।

सूत्रों ने कहा कि स्मृति ईरानी ने समारोह के लिए पार्टी लाइन से ऊपर उठकर स्थानीय विधायकों और एमएलसी सहित लगभग 25,000 लोगों को निमंत्रण भेजा है। मेदान मवई गांव में लगभग 15,000 वर्ग फुट के क्षेत्र में बना विशाल घर सुल्तानपुर रोड स्थित स्थानीय भाजपा कार्यालय से बमुश्किल 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

पिछले साल जनवरी में स्मृति ईरानी ने अपने आवास पर 'खिचड़ी भोज' का आयोजन किया था। इसे एक ऐसा समारोह बताया था जिसका राजनीति से कोई लेना-देना नहीं था। उस कार्यक्रम में गायत्री प्रजापति की पत्नी और अमेठी विधायक महाराजी प्रजापति सहित विपक्षी विधायकों ने भाग लिया था।

भाजपा के अमेठी प्रवक्ता गोविंद चौहान ने कहा, "स्मृति ईरानी ने 2014 के लोकसभा चुनाव में अमेठी के लोगों से अमेठी में घर बनाने और स्थानीय निवासी के रूप में बसने का अपना वादा पूरा किया है।" उस चुनाव में भले ही उन्हें हार का सामना करना पड़ा लेकिन उन्होंने निर्वाचन क्षेत्र को नहीं छोड़ा। इसी का परिणाम है कि उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के दिग्गज नेता राहुल गांधी को उनकी परंपरागत सीट पर मात दे दी। सांसद बनने के बाद स्मृति ईरानी ने एक घर किराए पर लिया था। फिलहाल यहीं पर बीजेपी का बेस कैंप भी है।

आपको बता दें कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा यूपी में प्रवेश कर चुकी है। 19 फरवरी को भदोही, प्रयागराज और प्रतापगढ़ होते हुए अमेठी पहुंचने वाली है। इसके ठीक बाद 22 फरवरी को स्मृत ईरानी गृह प्रवेश का पूजा करेंगी।

हालांकि, उसी दिन यानी 19 फरवरी को भाजपा के ग्राम चौपाल अभियान में हिस्सा लेने के लिए स्मृति ईरानी के अमेठी पहुंचने का कार्यक्रम है। इस कार्यक्रम के जरिए स्थानीय जनता के वह सीधा संवाद करेंगी। भाजपा के अमेठी अध्यक्ष राम प्रसाद मिश्रा ने कहा, ''हम उनके कार्यक्रम को अंतिम रूप दे रहे हैं।''

कांग्रेस ने अपने लिए घर बनवाने के स्मृति ईरानी के कदम को नौटंकी के अलावा और कुछ नहीं बताया है। यूपी कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने कहा, "वह अमेठी के लोगों से किए गए वादों को पूरा करने में विफल रही हैं।"

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें