फोटो गैलरी

Hindi News चुनाव लोकसभा चुनाव 2024ना सीट बंटवारे पर समझौता, ना संयोजक पर बन पाई बात; INDIA अलायंस की मीटिंग में दो तिहाई साथी गायब

ना सीट बंटवारे पर समझौता, ना संयोजक पर बन पाई बात; INDIA अलायंस की मीटिंग में दो तिहाई साथी गायब

Lok Sabha Election 2024: हालांकि, सूत्रों ने बताया कि सीट बंटवारे पर नेताओं ने चर्चा की लेकिन कांग्रेस की तरफ से कुछ ठोस प्लान बनाकर नहीं लाया गया था। फिलहाल कांग्रेस भारत जोड़ो न्याय यात्रा में व्यस्

ना सीट बंटवारे पर समझौता, ना संयोजक पर बन पाई बात; INDIA अलायंस की मीटिंग में दो तिहाई साथी गायब
Pramod Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 13 Jan 2024 02:09 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव 2024 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी को हराने के लिए बने 28 दलों के INDIA अलायंस की आज वर्चुअल मीटिंग हुई लेकिन इसमें सिर्फ एक तिहाई दल ही शामिल हो पाए हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 28 में से सिर्फ 10 दलों के नेता ही मीटिंग में मौजूद थे। मीटिंग करीब दो घंटे तक चली। सूत्रों ने बताया कि मल्लिकार्जुन खरगे को इंडिया अलायंस का अध्यक्ष बनाया गया है। लेकिन किसी को संयोजक नहीं बनाया गया है।

हालांकि, सूत्रों के मुताबिक संयोजक पद पर नीतीश कुमार के नाम की चर्चा हुई लेकिन उन्होंने यह कहकर संयोजक पद लेने से इनकार कर दिया कि उन्हें किसी पद की लालसा नहीं है। सूत्रों के मुताबिक नीतीश ने बैठक में कहा कि वह चाहते हैं कि जमीन पर गठबंधन बना रहे। सूत्रों ने बताया कि बैठक में सीटों के बंटवारे पर भी कोई ठोस बात नहीं बन पाई।

लोकसभा में नेता विपक्ष अधीर रंजन चौधरी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच छिड़े वाकयुद्ध के बीच दीदी इस वर्चुअल मीटिंग में शामिल नहीं हुई हैं। हालांकि, उनकी तरफ से कहा गया है कि आखिरी समय में मीटिंग की सूचना मिलने की वजह से वो इसमें शामिल नहीं हो रही हैं लेकिन उनकी नाराजगी साफ तौर पर जगजाहिर है। ममता की नाराजगी इस बात को लेकर है कि कांग्रेस ने अधीर रंजन चौधरी को उन पर हमला करने के लिए क्यों छोड़ रखा है। कुछ साथी दलों ने भी मीटिंग में इस बात को उठाया कि कांग्रेस के नेता ममता पर हमलावर क्यों हैं, जबकि वो गठबंधन में हैं।

आज की वर्चुअल मीटिंग में एनसीपी नेता शरद पवार, कांग्रेस नेता राहुल गांधी और पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, सीपीआई नेता डी राजा, डीएमके के एम के स्टालिन, जेडीयू के नीतीश कुमार, नेशनल कॉन्फ्रेन्स के उमर अब्दुल्ला, सीपीएम के सीताराम येचुरी, आप के अरविंद केजरीवाल, राजद से लालू और तेजस्वी यादव, जेएमएम से हेमंत सोरेन और सपा से रामगोपाल यादव मौजूद थे।

सूत्रों ने ये भी बताया कि सीट बंटवारे पर नेताओं ने चर्चा की लेकिन कांग्रेस की तरफ से कुछ ठोस प्लान बनाकर नहीं लाया गया था। फिलहाल कांग्रेस भारत जोड़ो न्याय यात्रा में व्यस्त है। ममता के अलावा उद्धव ठाकरे और अखिलेश यादव भी इस मीटिंग से गायब दिखे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें