फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News चुनाव लोकसभा चुनाव 2024बदल रहा हवा का रुख, मोदी पूर्व प्रधानमंत्री होने वाले हैं; ममता बनर्जी की भविष्यवाणी

बदल रहा हवा का रुख, मोदी पूर्व प्रधानमंत्री होने वाले हैं; ममता बनर्जी की भविष्यवाणी

कोलकाता में चुनावी रैली के दौरान ममता बनर्जी ने दावा किया है कि हवा का रुख तेजी से बदल रहा है और मोदी आने वाले दिनों में पूर्व पीएम होने वाले हैं।

बदल रहा हवा का रुख, मोदी पूर्व प्रधानमंत्री होने वाले हैं; ममता बनर्जी की भविष्यवाणी
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,कोलकाताWed, 29 May 2024 06:52 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव 2024 के लिए अब सिर्फ सातवें चरण का मतदान बचा है। इस दिन पीएम नरेंद्र मोदी समेत 904 दिग्गजों की किस्मत दांव पर लगी है। 1 जून को पश्चिम बंगाल की 9 सीटों के लिए भी वोटिंग की जानी है। बंगाल में एक तरफ पीएम नरेंद्र मोदी का दावा है कि भाजपा को चुनाव में इस बार सबसे ज्यादा सीटें बंगाल से ही आ रही हैं। मोदी ने मंगलवार को भविष्यवाणी की कि बंगाल में भाजपा को पहली बार इतनी सीट मिलने जा रही हैं, जो अभी तक नहीं मिली। हालांकि मोदी के दावों से उलट पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कहना है कि हवा का रुख बदल रहा है और मोदी कुछ ही दिनों में पूर्व प्रधानमंत्री होने वाले हैं।

कोलकाता में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो के जवाब में ममता बनर्जी ने शहर में दो रोड शो किए। एक पीएम मोदी के कार्यक्रम से पहले और दूसरा मोदी के कार्यक्रम के बाद। मंगलवार को दक्षिण कोलकाता में एक रैली को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने भविष्यवाणी की कि कुछ ही दिनों में नरेंद्र मोदी पूर्व प्रधानमंत्री बन जाएंगे क्योंकि हवा का रुख बदल रहा है। उन्होंने पीएम मोदी पर चक्रवात रेमल से पहले और बाद में बचाव और राहत कार्यों की निगरानी के लिए केंद्र के प्रयासों को "झूठा" कहा। ममता ने दावा किया कि यह उनकी ही सरकार थी जिसने चक्रवात में फंसे लोगों की जान बचाने के लिए कदम उठाए।

दिल्ली से चक्रवात पर नजर रख रहे मोदी?
उन्होंने कहा, "आज प्रधानमंत्री ने कहा कि वे दिल्ली से चक्रवात पर नज़र रख रहे हैं। क्या एक प्रधानमंत्री को इतना झूठ बोलना शोभा देता है? झूठ बोलना किसी का संवैधानिक अधिकार नहीं है। मैं उनसे आग्रह करती हूं कि वे अपनी कही बात पर फिर से विचार करें। एनडीआरएफ (राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल) एक केंद्रीय टीम है, लेकिन राज्य सरकार इसकी सेवाओं का लाभ उठाने का खर्च वहन करती है... उन्हें देश के बारे में कितना पता है?"

बहस करने के लिए गुजरात आने को भी तैयार
उन्होंने कहा कि देश में हवा का रुख बदल रहा है और यह मैं ही हूं जो इस दिशा में ध्यान दिलाने वाली पहली शख्स हूं। ममता ने कहा, "वह (मोदी) अब इंटरव्यू दे रहे हैं। पिछले 10 सालों में उन्होंने कभी किसी पत्रकार को कोई इंटरव्यू नहीं दिया, क्योंकि सवाल और जवाब पहले से लिखे होते हैं। यही कारण है कि मैंने हम दोनों के बीच सार्वजनिक बहस की मांग की। अगर वह चाहें तो मैं गुजरात भी आने को तैयार हूं। प्रेस हमसे खुलकर सवाल कर सकती है। मैं देखना चाहती हूं कि वह देश को कितना जानते हैं और उससे कितना प्यार करते हैं?" 

बंगाल को बदनाम करने में कसर नहीं छोड़ी
उन्होंने एक बार फिर आरोप लगाया कि "पीएम मोदी ने कहा था 'न खाऊंगा, न खाने दूंगा'। लेकिन अब उन्होंने सब कुछ खा लिया है और इस प्रक्रिया में देश के साथ-साथ नागरिकों, संविधान और सार्वजनिक क्षेत्र को भी बेच दिया है।" ममता ने कहा, "उनके और उनकी टीम के पास हर चीज के लिए एक योजना है। भाजपा ने संदेशखाली साजिश को चुनावी मुद्दा बनाने और पश्चिम बंगाल को बदनाम करने के लिए हमारी माताओं और बहनों को अपमानित किया... हम अपनी महिलाओं के प्रति इस तरह का अपमान बर्दाश्त नहीं करेंगे।"

80 हजार की मशरूम खाते हैं मोदी
उन्होंने कहा, "जब तेजस्वी यादव मछली खा रहे थे, तो प्रधानमंत्री ने इसकी आलोचना की... क्या लोगों को मशरूम खाना चाहिए? आज मुझे पता चला कि प्रधानमंत्री ताइवानी मशरूम खाते हैं, उसकी कीमत 80,000 रुपये है। उनके भोजन पर 4 लाख रुपये खर्च हुए हैं। मुझे उनके महंगे भोजन खाने से कोई आपत्ति नहीं है। लेकिन वह अन्य लोगों को उनकी पसंद का भोजन खाने से क्यों रोकते हैं? क्या बंगालियों को उनकी मछली और चावल खाने से वंचित कर दिया जाएगा?"