फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News चुनाव लोकसभा चुनाव 2024PM मोदी मिलने का समय दें, उनकी गलतफहमी करूंगा दूर; 'मंगलसूत्र' पर खरगे की दो टूक

PM मोदी मिलने का समय दें, उनकी गलतफहमी करूंगा दूर; 'मंगलसूत्र' पर खरगे की दो टूक

पीएम मोदी चुनावी रैलियों में कांग्रेस पर महिलाओं का मंगलसूत्र तक छीनने और देश में मुस्लिम लीग लाने का आरोप लगा रहे हैं। जवाब में खरगे ने कहा है कि अगर पीएम समय दें तो वो गलतफमी दूर करेंगे।

PM मोदी मिलने का समय दें, उनकी गलतफहमी करूंगा दूर; 'मंगलसूत्र' पर खरगे की दो टूक
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 24 Apr 2024 06:36 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव 2024 की लड़ाई भाजपा और कांग्रेस में मुस्लिम लीग और मंगलसूत्र पर आ गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार चुनावी रैलियों में कांग्रेस पर महिलाओं का मंगलसूत्र तक छीनने और देश में मुस्लिम लीग लाने का आरोप लगा रहे हैं। पीएम मोदी के मुताबिक, कांग्रेस के मेनिफेस्टो में ऐसी कई बातें हैं, जो देश के लिए खतरा है। पीएम के इन आरोपों के जवाब में मंगलवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने पलटवार करते हुए कहा कि उनकी मां ने देश के लिए अपना मंगलसूत्र ही कुर्बान कर दिया वो किसी का मंगलसूत्र क्या लेंगे। अब मामले में कांग्रेस चीफ मल्लिकार्जुन खरगे सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के पास अगर समय है तो वे उनसे मिलकर कांग्रेस पार्टी का घोषणापत्र अच्छे से समझा सकते हैं ताकि उनकी गलतफहमी दूर हो।

इस महीने चुनावी रैलियों में पीएम मोदी ने अपने भाषणों में कई बार कांग्रेस के घोषणापत्र का जिक्र करते हुए कहा है कि कांग्रेस पार्टी के वादे आजादी से पहले मुस्लिम लीग के विचारों की याद दिलाते हैं। रविवार को राजस्थान की एक रैली में पीएम मोदी ने यह दावा करके नए विवाद को जन्म दे दिया कि कांग्रेस का इरादा लोगों की संपत्ति जब्त कर उसे मुसलमानों में बांटना है। उन्होंने कहा था, "वे आपका 'मंगलसूत्र' भी नहीं छोड़ेंगे।"

अब पूरे घटनाक्रम पर कांग्रेस चीफ मल्लिकार्जुन खरगे सामने आए हैं। केरल के वायनाड में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के समर्थन में एक रैली को संबोधित करते हुए खरगे ने सभी आरोपों का जवाब दिया। उन्होंने कहा, "पीएम मोदी कहते हैं कि कांग्रेस का घोषणापत्र मुस्लिम लीग का घोषणापत्र है। मैं उनसे अनुरोध करता हूं, अगर वह मुझे समय दें, तो मैं अपना घोषणापत्र उन्हें समझाऊंगा। हम कहां कह रहे हैं कि यह केवल मुसलमानों के लिए है? हम सभी के लिए काम करने की बात कह रहे हैं।" कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, हमारा घोषणापत्र गरीबों, किसानों, युवाओं, महिलाओं और सभी के लिए है। इस तरह की बातें सिर्फ समाज को बांटना चाहती हैं।

युवाओं और महिलाओं के लिए कांग्रेस के वादों का जिक्र करते हुए, खरगे ने कहा, "युवा न्याय सभी के लिए है। नारी शक्ति सभी के लिए है। यह केवल मुसलमानों के लिए नहीं है, अनुसूचित जाति, जनजाति, गरीबी रेखा से नीचे के लोगों के लिए भी है। यह सभी के लिए है। यूपीए काल के दौरान, हमने लोगों को उनके मांगे बिना कुछ अधिकार दिए थे, उदाहरण के लिए, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी सोनिया गांधी ने दी थी और भाजपा ने तब इसका विरोध किया था।''

उन्होंने कहा, "पीएम मोदी कहते हैं कि मनरेगा लाकर कांग्रेस देश में गरीबी ला रही है। हमने मनरेगा को एक अधिकार, शिक्षा को एक अधिकार, खाद्य सुरक्षा को एक अधिकार बनाया। इन चीजों को पीएम मोदी और (केंद्रीय गृह मंत्री) भी नहीं छीन सकता।" अमित शाह ऐसा करना चाहते हैं। ये यूपीए सरकार द्वारा लाए गए स्थायी अधिकार हैं।" 

पीएम पर निशाना साधा
प्रधान मंत्री पर अपना हमला जारी रखते हुए खड़गे ने कहा कि उन्होंने दुनिया और देश का दौरा किया है, लेकिन हिंसा प्रभावित मणिपुर का दौरा नहीं किया है। उन्होंने कहा, "राहुल गांधी वहां गए, लोगों को सांत्वना दी और उनसे कहा, 'हिम्मत मत हारो। मैं वहां हूं।"