फोटो गैलरी

Hindi News चुनाव लोकसभा चुनाव 2024शिवराज-सिंधिया पर BJP खेलेगी बड़ा दांव! विजयवर्गीय भी लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव

शिवराज-सिंधिया पर BJP खेलेगी बड़ा दांव! विजयवर्गीय भी लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव

Lok Sabha Election: MP भाजपा या केंद्रीय नेतृत्व की तरफ से आधिकारिक तौर पर अभी नामों का ऐलान नहीं किया गया है। संभावनाएं हैं कि 29 फरवरी को केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के बाद नाम सामने आ सकते हैं।

शिवराज-सिंधिया पर BJP खेलेगी बड़ा दांव! विजयवर्गीय भी लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 28 Feb 2024 09:25 AM
ऐप पर पढ़ें

भारतीय जनता पार्टी जल्दी ही लोकसभा चुनाव में उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर सकती है। मध्य प्रदेश की राजधानी में राज्य की 29 लोकसभा सीटों को लेकर मंथन भी मंगलवार को हुआ है। खबरें हैं कि प्रदेश नेतृत्व नामों की सूची लेकर दिल्ली जा सकता है। संभावनाएं जताई जा रही हैं कि 2024 चुनाव में भाजपा पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और कद्दावर नेता कैलाश विजयवर्गीय पर बड़ा दांव खेल सकती है।

बड़ी संख्या में सांसदों का कटेगा टिकट
एक मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि पार्टी करीब 21 सांसदों को बदल सकती है। हालांकि, इसे लेकर आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है। फिलहाल, राज्य की 29 में 28 पर भाजपा का कब्जा है। कहा जा रहा है कि विधानसभा चुनाव में 7 सांसदों का प्रयोग करने वाली भाजपा इन सभी सीटों पर नए उम्मीदवारों के नाम पर मुहर लगा सकती है।

ये नाम चल रहे हैं आगे
रिपोर्ट्स के अनुसार, भाजपा चौहान और सिंधिया को दो-दो सीटों से मैदान में उतार सकती है। इनमें चौहान पर भाजपा का गढ़ कहे जाने वाले विदिशा और राजधानी भोपाल का नाम है। वहीं, सिंधिया गुना के अलावा ग्वालियर से भी दावेदारी पेश कर सकते हैं। आसार हैं कि पार्टी राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय को इंदौर से लोकसभा चुनाव में उतार सकती है। विजयवर्गीय ने 2023 विधानसभा चुनाव लड़ा और जीता था।

किस सीट पर कौन सा नाम आगे
दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट के अनुसार, भोपाल से प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, चौहान, नरोत्तम मिश्रा, रामेश्वर शर्मा और सुमित पचौरी का नाम आगे चल रहा है। वहीं, विदिशा सीट पर पार्टी चौहान के अलावा रमाकांत भार्गव और रामपाल सिंह के नाम पर विचार कर सकती है। इधर, गुना से केपी सिंह यादव का नाम भी आगे चल रहा है। खास बात है कि यादव ने 2019 लोकसभा चुनाव में तब कांग्रेस प्रत्याशी रहे सिंधिया को हराया था।

रिपोर्ट के मुताबिक, इंदौर से विजयवर्गीय के अलावा शंकर ललवानी और पुष्यमित्र भार्गव का नाम आगे माना जा रहा है। मंदसौर से पार्टी देवीलाल धाकड़, यशपाल सिंह सोसिदिया, मदन राठौर या सुधीर गुप्ता के नाम पर दांव खेल सकती है। सागर से गौरव सिरोठिया, राजबहादुर सिंह, रजनीश अग्रवाल और लता वानखेड़े के नाम पर चर्चा की गई।

ग्वालियर सीट पर हुई रायशुमारी में यशवंत इंद्रापुरकर, जयभान सिंह पवैया, विवेक शेजवलकर के नाम भी आया। जबकि, बालाघाट से ढाल सिंह बिसेन, वैभव पवार का नाम आगे है। पार्टी प्रदेश अध्यक्ष शर्मा पर खजुराहो से भी दांव खेल सकती है। यहां से संजय पाठक का नाम भी चर्चा में है। बैतूल से डीडी उइके, मंगल सिंह धुर्वे, डॉक्टर महेंद्र सिंह के नामों पर विचार किया जा सकता है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि रीवा से जनार्दन मिश्रा, पुष्पराज सिंह, प्रज्ञा त्रिपाठी या अजय सिंह के नाम पर मुहर लग सकती है। सतना से पार्टी विधानसभा चुनाव में हारने वाले गणेश सिंह को मौका दे सकती है। यहां से सपना वर्मा और योगेश ताम्रकार का नाम भी आगे चल रहा है। शहडोल से पार्टी प्रमिला सिंह, हिमाद्री सिंह, ज्ञान सिंह के नाम पर भरोसा जता सकती है।

हालांकि, एमपी भाजपा या केंद्रीय नेतृत्व की तरफ से आधिकारिक तौर पर अभी नामों का ऐलान नहीं किया गया है। संभावनाएं हैं कि 29 फरवरी को केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के बाद नाम सामने आ सकते हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें