फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News चुनाव लोकसभा चुनाव 2024दो हफ्ते बाद फिर से चुनावी रण में ममता बनर्जी, महुआ के गढ़ में क्यों ठोकने जा रहीं ताल; क्या रणनीति?

दो हफ्ते बाद फिर से चुनावी रण में ममता बनर्जी, महुआ के गढ़ में क्यों ठोकने जा रहीं ताल; क्या रणनीति?

West Bengal News: ममता बनर्जी 14 मार्च को अपने घर में गिर गई थीं और उनके सिर में बहुत चोट लगी थी। डॉक्टरों ने उनके सिर और नाक पर पांच टांके लगाए थे। चिकित्सकों ने उन्हें आराम करने की सलाह दी थी।

दो हफ्ते बाद फिर से चुनावी रण में ममता बनर्जी, महुआ के गढ़ में क्यों ठोकने जा रहीं ताल; क्या रणनीति?
Pramod Kumarलाइव हिन्दुस्तान,कोलकाताWed, 27 Mar 2024 01:34 PM
ऐप पर पढ़ें

सिर की चोट से उबर रहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी 31 मार्च से लोकसभा चुनाव के लिए चुनाव प्रचार शुरू करेंगी। पार्टी के एक नेता ने मंगलवार को यह जानकारी दी। ममता रविवार को कृष्णानगर लोकसभा सीट से  दोबारा लोकसभा चुनाव अभियान की शुरुआत करेंगी, जहां तृणमूल ने महुआ मोइत्रा को अपना उम्मीदवार बनाया है।

बनर्जी 14 मार्च को अपने घर में गिर गई थीं और उनके सिर में बहुत चोट लगी थी। डॉक्टरों ने उनके सिर और नाक पर पांच टांके लगाए थे। चिकित्सकों ने उन्हें आराम करने की सलाह दी थी। इसलिए अभी वह चुनाव प्रचार से दूर हैं। पार्टी के नेता ने कहा, ‘‘हमारी पार्टी सुप्रीमो 31 मार्च को चुनाव अभियान शुरू करेंगी। वह रविवार को नादिया जिले में कृष्णानगर के धूबूलिया में रैली को संबोधित करेंगी। वहां वह कृष्णानगर से तृणमूल प्रत्याशी महुआ मोइत्रा तथा राणाघाट से पार्टी उम्मीदवार मुकुट मणि अधिकारी के पक्ष में प्रचार करेंगी।’’

उम्मीद है कि उसी दिन ममता दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के खिलाफ इंडिया अलायंस के विरोध-प्रदर्शन में शामिल होने के लिए पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को भी दिल्ली भेजेंगी। आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद केजरीवाल की गिरफ्तारी और महुआ मोइत्रा के घर और चुनाव कार्यालयों पर छापेमारी पर तृणमूल कांग्रेस ने चुनाव आयोग से शिकायत की है।

बनर्जी रविवार को दोपहर 12 बजे कृष्णानगर क्लब ग्राउंड में चोट लगने के बाद पहली सार्वजनिक रैली को संबोधित करेंगी। एसएसकेएम अस्पताल के सूत्रों के मुताबिक, सीएम की सेहत में सुधार हो रहा है। डॉक्टरों ने कहा कि वह अगले कुछ दिनों में चुनाव प्रचार के लिए ठीक हो जाएंगी। महुआ मोइत्रा के संसदीय क्षेत्र से दीदी के दोबारा चुनाव अभियान शुरू करने को एक दांव के रूप में देखा जा रहा है। वह इसके बहाने केंद्र सरकार और केंद्रीय एजेंसियों के इस्तेमाल पर निशाना साधना चाहती हैं और चुनाव आयोग को भी संदेश देना चाहती हैं कि कि केंद्रीय एजेंसियों को इस संबंध में दिशा निर्देश जारी करें।

बनर्जी ने 10 मार्च को कोलकाता के ब्रिगेड परेड ग्राउंड में एक विशाल रैली में पश्चिम बंगाल में 42 लोकसभा सीट के वास्ते पार्टी उम्मीदवारों की घोषणा की थी।