DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खुलासा: दो नाबालिग बहनों को 4 माह तक रखा बंधक, रोज करते थे दुष्कर्म

rape

हरियाणा के यमुनानगर में घर से लापता हुई दो नाबालिग बहनों ने चौंकाने वाला खुलासा किया। दोनों बहनों ने कहा कि उन्हें चार महीने से एक घर में बंधक बनाया गया था। इस दौरान दो युवक चार माह से चाकू की नोक पर उनसे रोज दुष्कर्म करते थे। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

दोनों बहनों ने कहा कि उनके साथ एक अन्य युवक ने भी दुष्कर्म का प्रयास किया। अभी वह गिरफ्त से बाहर है। पुलिस के अनुसार, किशोरियों को कैथल के कस्बा चीका के डेरा बाघसिंह में रखा गया था। दोनों 17 जून की सुबह फोन ठीक कराने के बहाने घर से निकली थीं और लापता हो गईं। इनमें एक की उम्र 16 वर्ष व दूसरी की 14 वर्ष है। पिता ने कैथल के कस्बा चीका के गांव बिछिया के सोनू उर्फ सोहन व उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के कस्बा नानौता निवासी संदीप कुमार पर दोनों किशोरियों को बहला फुसलाकर कर भगा ले जाने का संदेह जताया था।


पुलिस की क्राइम इंवेस्टीगेशन एजेंसी की शाखा एक के इंचार्ज यादविंद्र सिंह ने बताया कि सोनू का किशोरियों के घर पर आना-जाना था। उसके मामा वहीं पर रहते थे। दोनों किशोरियों को फोन के बहाने घर से बाहर बुलाया गया और उन्हें सोनू अपने साथ ले गया। वह उन्हें चीका में डेरा बाघ सिंह लेकर गया। जहां उसने किराये के मकान में दोनों किशोरियों को रखा। सोनू अनाज मंडी में मजदूरी करता रहा। इस दौरान उसकी चीका के ही काका के साथ जान पहचान हो गई। काका भी वहीं पर रहता था। वह कबाड़ का कार्य करता है। दोनों ने किशोरियों के साथ दुष्कर्म किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:two teen sisters taken in captive for 4 months months and raped in yamunanagar