अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शर्मनाक! पुलिसवालों ने नहीं लिखी बलात्कार की FIR तो महिला ने थाने में की खुदकु्शी

crime against woman

उत्तर प्रदेश में शाहजहांपुर के एक थाने 28 वर्षीय महिला ने आग लगाकर आत्महत्या कर ली। आरोप है कि एक आदमी ने मलिहा के साथ बलात्कार किया और जब वह पुसिस के शिकायत लिखाने गई तो पुलिस एफआईआर दर्ज करने की बजाए आरोपी से समझौता कराने का दबाव बनाती रही। समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मामले में थाने के तीन पुलिसवालों को बर्खास्त कर दिया गया है।

समझौता का दबाव बनाने का आरोप
पीड़िता के पति रामवीर ने आरोप लगाया कि पुलिसवालों ने जब बलात्कार की शिकायत नहीं लिख रहे थे तो वह परेशान थी। इससे ज्यादा खराब बात यह भी पुलिस वाले मामले के आरोपी विनय कुमार से समझौता करने का दबाव बना रहे थे।

29 अगस्त को बुरी तरह से जल चुकी महिला को अस्पताल पहुंचाया गया लेकिन उसकी उसके जख्म इतने गंभीर थे कि उसने इलाज के दौरान ही दम तोड़ दिया। महिला के पति ने अब बलात्कार और आत्महत्या के लिए मजबूर करने की एफआईआर दर्ज कराई है।

तीन पुलिसवाले बर्खास्त
इस दौरान एसपी एसएन चिनप्पा ने बताया कि मामले में थाना इंचार्ज सुभाष कुमार, एस इंस्पेक्टर लाल सिंह राणा और लोकेश कुमार को सस्पेंड कर दिया गया है। जबकि एसपी(ग्रामीण) सुभाष चंद्र शाक्य को मामले की जांच के लिए गांव सोण गांव भेजा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:police refuse to file FIR of rape in result woman commits suicide in shahjahanpur