DA Image
12 दिसंबर, 2020|12:38|IST

अगली स्टोरी

अमेरिका में बाइडेन की जीत का पाकिस्तान में मन रहा जश्न, जानिए क्या कह रहे इमरान समेत अन्य नेता

imran khan

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक नेता जो बाइडेन ने अपनी जोरदार जीत दर्ज की है। जिसकी चर्चा पूरी दुनिया में हो रही है। जो बाइडन की जीत से पाकिस्तान भी काफी खुश नजर आ रहा है। बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप के शासन काल के दौरान पाक और अमेरिका के संबंध काफी प्रभावित होते रहे। ऐसा कई बार हुआ जब ट्रंप ने सार्वजनिक मंचो पर पाकिस्तान दुतकार लगाई. अब जो बाइडन की जीत के बाद पाकिस्तान उम्मीद लगा रहा है कि दोनों देशों के संबंध में सुधार होगा और दोनों देशों के रिश्ते भी तेज गति से अच्छे होंगे।
इसी बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने जो बाइडेन और कमला हैरिस को उनकी जीत की बधाई दी है। बधाई देते हुए इमरान खान ने  ग्लोबल समिट ऑन डेमोक्रेसी और अवैध टैक्स चोरी को खत्म करने और भ्रष्ट तरीके से देश की संपत्ति के लेन-देन में शामिल लोगों पर रोक लगाने को लेकर अमेरिका के साथ काम करने की उम्मीद जाहिर की है। साथ ही इमरान ने ये भी कहा कि वो अफगानिस्तान और दूसरे इलाकों में अमेरिका के साथ शांति के लिए अपना काम जारी रखेंगे।

 

पाकिस्तान के दूसरे नेताओं ने भी जो बाइडेन के जीतने पर खशी जाहिर की और ट्विटर के जरिए बधाई दी. पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने भी जो बाइडन के जीतने पर खुशी जताई है उन्होंने ट्विट कर कहा है कि जो बाइडन को ऐतिहासिक जीत की बधाई और हम आपके नेतृत्व में अमेरिका और पाकिस्तान के बीच बेहतर संबंधों के लिए तत्पर हैं।

 

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी और पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) की नेता मरियम नवाज ने जो बाइडेन और कमला हैरिस की ऐतिहासिक और शानदार जीत पर बधाई देते हुए कहा है। यह वास्तव में एक जीत है जो दुनिया भर में अनुकूल रूप से प्राप्त की जाएगी। उम्मीद है कि यह अमेरिका-पाक संबंधों को बेहतर बनाने के लिए एक आशाजनक शुरुआत होगी। 

 

इसके अलावा दुनिया भर के नेताओं ने डेमोक्रेटिक नेता जो बाइडेन को अमेरिका का राष्ट्रपति चुने जाने के बाद उन्हें बधाई दी और इस जीत को वैश्विक लोकतंत्र मजबूत करने का अवसर करार दिया। उन्होंने अमेरिका में उपराष्ट्रपति पद के लिए पहली बार किसी महिला के चुने जाने पर भी खुशी जताई। कमला हैरिस को उप राष्ट्रपति चुना गया है।
हालांकि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हार स्वीकार नहीं की है, लेकिन पुन: चुने जाने की उनकी कोशिश के नाकाम रहने पर कई देशों के नेताओं ने राहत जताई। फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने ट्वीट किया, ''अमेरिकियों ने अपना राष्ट्रपति चुन लिया है। जो बाइडेन एवं कमला हैरिस को बधाई। हमें आधुनिक चुनौतियों से पार पाने के लिए बहुत कुछ करना है। आइए, मिलकर काम करें।
इसके अलावा जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल, नाटो महासचिव जेन्स स्टोल्टेनबर्ग और मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल सीसी ने भी बाइडेन को बधाई दी। ट्रंप के महाभियोग और बाइडेन एवं उनके परिवार को भ्रष्ट दिखाने की ट्रंप प्रचार मुहिम के केंद्र में रहे देश यूक्रेन ने भी बाइडेन को जीत के तुरंत बाद बधाई दी। अमेरिका के कई पश्चिमी सहयोगियों ने भी वाशिंगटन में नए प्रशासन की शुरुआत का स्वागत किया। जर्मनी के विदेश मंत्री हाइको मास ने ट्वीट किया, ''हम अमेरिका के अगले राष्ट्रपति के साथ मिलकर काम करने के इच्छुक हैं।
हालांकि स्लोवेनिया के प्रधानमंत्री जानेज जांसा दुनिया के एकमात्र ऐसे नेता थे, जिन्होंने डोनाल्ड ट्रंप को मतगणना से पहले ही बधाई दे दी थी और बाइडेन की जीत की घोषणा के बाद भी उन्होंने ट्रंप को समर्थन देना जारी रखा। बाइडेन की जीत के बाद इराक में भी मिश्रित प्रक्रिया देखने को मिली। कई इराकी 2003 में इराक में अमेरिकी आक्रमण को लेकर बाइडेन को याद करते हैं। हालांकि इराकी राष्ट्रपति बरहम सालेह ने ट्वीट करके बाइडेन को जीत की बधाई दी और उन्हें एक मित्र और विश्वसनीय साझेदार बताया।
ट्रंप प्रशासन की नीतियों से अहसमत देशों के अलावा उन देशों के नेताओं ने भी बाइडेन को जीत की बधाई दी, जिनके ट्रंप के साथ अच्छे संबंध रहे हैं। संयुक्त अरब अमीरात के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने बाइडेन और निर्वाचित उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को बधाई दी। मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के ट्रंप के दामाद जारेड कुश्नेर के साथ अच्छे संबंध रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाइडेन के साथ अपनी फोटो साझा की और उन्हें ''शानदार जीत की बधाई दी। मोदी के ट्रंप के साथ भी अच्छे संबंध रहे हैं। ट्रंप के एक अन्य सहयोगी एवं ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने बाइडेन को जीत की बधाई दी। मोदी एवं जॉनसन ने हैरिस को भी बधाई दी।
इसके अलावा नाइजीरिया के राष्ट्रपति मोहम्मदु बुहारी ने भी बाइडेन को जीत की बधाई दी। हालांकि ट्रंप के साथ अच्छे संबंध रखने वाले कुछ नेता चुनाव परिणाम की घोषणा के बाद भी चुप रहे। इन नेताओ में ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो, इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और सउदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान शामिल हैं। नेतन्याहू के विरोधी इस्रालियों ने बाइडेन की जीत का स्वागत किया। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बाइडेन की जीत पर तत्काल कोई बयान नहीं दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Biden victory in America was celebrated in Pakistan know what Imran and other leaders are saying