DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   क्रिकेट  ›  Yuvraj Singh Retirement: युवी के संन्यास के बाद सहवाग ने शेयर की ऐसी PHOTO, लिखी ये बात

क्रिकेटYuvraj Singh Retirement: युवी के संन्यास के बाद सहवाग ने शेयर की ऐसी PHOTO, लिखी ये बात

लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीPublished By: Madan
Mon, 10 Jun 2019 04:08 PM
Yuvraj Singh Retirement: युवी के संन्यास के बाद सहवाग ने शेयर की ऐसी PHOTO, लिखी ये बात

Yuvraj Singh Retirement: युवराज सिंह ने सोमवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की जिसके साथ ही उनके उतार चढ़ाव वाले करियर का भी अंत हो गया। इसके बाद उनके क्रिकेट करियर में साथी खिलाड़ी रहे टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने ट्विटर पर एक तस्वीर साझा की है। इस तस्वीर में वीरेंद्र सहवाग युवराज सिंह के साथ दिख रहे हैं। ट्विटर पर फोटो शेयर करते हुए वीरेंद्र सहवाग ने लिखा है कि खिलाड़ी आएंगे और जाएंगे। लेकिन युवराज सिंह जैसा खिलाड़ी बहुत मुश्किल से मिलेगा। खिलाड़ी आएंगे और जाएंगे, लेकिन युवराज सिंह जैसे खिलाड़ी बहुत कम मिलेंगे। कई मुश्किल समय को झेला। बीमारी को हराया, गेंदबाजों को धोया और दिलों को जीता। अपनी लड़ाई और इच्छा शक्ति से कई लोगों को प्रेरित किया। आपको जीवन में शुभकामनाएं युवी।

ये भी पढ़ें: युवराज ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया संन्यास, PC में हुए भावुक

इससे पहले युवराज सिंह ने मुंबई में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि 'मैंने 25 साल के बाद अब क्रिकेट से आगे बढ़ने का फैसला किया है। क्रिकेट ने मुझे सब कुछ दिया और यही वजह है कि मैं आज यहां पर हूं। उन्होंने कहा कि मैं बहुत भाग्यशाली रहा कि मैंने भारत की तरफ से 400 मैच खेले। जब मैंने खेलना शुरू किया था तब मैं इस बारे में सोच भी नहीं सकता था। युवराज ने भारत की तरफ से 40 टेस्ट, 304 वनडे ओर 58 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले। उन्होंने टेस्ट मैचों में 1900 और वनडे में 8701 रन बनाये। उन्हें वनडे में सबसे अधिक सफलता मिली। टी20 अंतरराष्ट्रीय में उनके नाम पर 1177 रन दर्ज हैं।

ये भी पढ़ें: युवराज सिंह ने इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया संन्यास, बोले- इस खेल ने मुझे लड़ना सिखाया

बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने अपने करियर के तीन महत्वपूर्ण क्षणों में विश्व कप 2011 की जीत और मैन आफ द सीरीज बनना, टी20 विश्व कप 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ एक ओवर में छह छक्के जड़ना और पाकिस्तान के खिलाफ लाहौर में 2004 में पहले टेस्ट शतक को शामिल किया। विश्व कप 2011 के बाद कैंसर से जूझना उनके लिये सबसे बड़ी लड़ाई थी।

 

सभी खेलों से जुड़े समाचार पढ़ें सबसे पहले Live Hindustan पर। अपने मोबाइल पर Live Hindustan पढ़ने के लिए डाउनलोड करें हमारा न्यूज एप। और देश-दुनिया की हर खबर से रहें अपडेट।  

संबंधित खबरें