फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटपहली बॉल पर छक्का लगा तो...यश दयाल ने बताई RCB vs CSK मैच के अंतिम ओवर की कहानी

पहली बॉल पर छक्का लगा तो...यश दयाल ने बताई RCB vs CSK मैच के अंतिम ओवर की कहानी

Yash Dayal Last Over RCB vs CSK: आरसीबी वर्सेस चेन्नई सुपर किंग्स के बीच बेहद अहम मैच में यश दयाल किसी हीरो की तरह उभरे। दयाल ने पिछले सत्र में आखिरी ओवर में 29 रन लुटाए थे, इस बार 17 रन डिफेंड किए।

पहली बॉल पर छक्का लगा तो...यश दयाल ने बताई RCB vs CSK मैच के अंतिम ओवर की कहानी
Deepakलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 19 May 2024 03:40 PM
ऐप पर पढ़ें

Yash Dayal Last Over RCB vs CSK: आरसीबी वर्सेस चेन्नई सुपर किंग्स के बीच बेहद अहम मैच में यश दयाल किसी हीरो की तरह उभरे। यश दयाल ने पिछले सत्र में आखिरी ओवर में 29 रन लुटाए थे, इस बार 17 रन डिफेंड किए। यह कहीं से आसान नहीं था, लेकिन यश दयाल ने आरसीबी के भरोसे को पूरी तरह से कायम रखा। इसके साथ ही इस तेज गेंदबाज ने अंतिम ओवर से पहले की कहानी भी बताई है। बता दें कि इस बेहद अहम मुकाबले को जीतकर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने प्लेऑफ में अपनी जगह पक्की कर ली है। आरसीबी ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 218 रन बनाए थे। इसके बाद उसने चेन्नई सुपर किंग्स को 191 के स्कोर पर रोक दिया। आखिरी ओवर की पहली गेंद पर छक्का खाने के बावजूद यश दयाल ने लय नहीं खोई।

डालना था 19वां ओवर
प्रयागराज के इस गेंदबाज को असल में चेन्नई की पारी का 19वां ओवर डालना था, लेकिन अचानक उन्हें आखिरी ओवर देने का फैसला लिया गया। इस बारे में बताते हुए यश दयाल ने कहाकि मुझे 19वां ओवर फेंकना था लेकिन अचानक डीके भैया और फाफ डु प्लेसी ने बात की। मुझे नहीं पता कि दोनों के बीच क्या बात हुई। इसके बाद मुझसे बताया किया कि लॉकी 19वां ओवर डालेगा और मैं आखिरी ओवर। वहीं, यश  दयाल ने आरसीबी के प्रशंसकों को धन्यवाद देते हुए कहाकि मैंने बचपन से कभी ऐसा महसूस नहीं किया । जब भी टीवी पर आरसीबी का मैच देखता था तो लगता नहीं था कि कभी इस टीम का हिस्सा बनूंगा। मेरे लिये यह सपने जैसा है। आरसीबी के फैन्स अविश्वसनीय हैं और साथ नहीं छोड़ते हैं।

नीता अंबानी ने MI प्लेयर्स का बढ़ाया हौसला, कही दिल छू लेने वाली बात
पहली बॉल पर लगा ऐसा

इसके अलावा यश दयाल ने पहली गेंद पर छक्का लगने के बाद के बाद का भी अनुभव बयां किया है। यश दयाल ने कहाकि जब पहली गेंद पर छक्का लगा तो मुझे पिछले साल की याद आ गई। लेकिन मैंने पूरे सत्र में अच्छी गेंदबाजी की थी। मैं लगातार खुद से कहता रहा कि सिर्फ एक अच्छी गेंद की जरूरत है। उन्होंने कहाकि मुझे स्कोरबोर्ड देखने की जरूरत नहीं थी। मुझे बस अच्छी गेंद करनी थी। मैंने आत्मविश्वास बनाये रखा। दयाल ने कहाकि पिछली बार जो कुछ हुआ, उससे मैं नर्वस हो गया था। लेकिन आरसीबी टीम में आने के बाद से मैने काफी मेहनत की और अच्छी गेंद डालने पर ही फोकस रहा। सीनियर्स ने मुझे डांटा नहीं और हमेशा मेरे साथ खड़े रहे। इससे मुझे बहुत मदद मिली। मैच का निर्णायक मोड़ क्या था , यह पूछने पर उन्होंने कहाकि धोनी भैया का विकेट क्योंकि पहली गेंद पर उन्होंने छक्का लगाया था।