World Cup Countdown Ricky Ponting explosive 140 broke a billion indians hearts in 2003 - WC 2003: खिताबी टक्कर में रिकी पोंटिंग के तूफान के आगे टीम इंडिया धराशायी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

WC 2003: खिताबी टक्कर में रिकी पोंटिंग के तूफान के आगे टीम इंडिया धराशायी

World Cup 2003: रिकी पोंटिंग (140 नाबाद) ने तूफानी शतक ठोक ऑस्ट्रेलिया को चैंपियन बनाया। टीम इंडिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया ने 359 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया।

photo  getty images

दक्षिण अफ्रीका ने पहली बार जिम्बाब्वे और केन्या के साथ 2003 में आईसीसी वर्ल्ड कप (ICC World Cup) की मेजबानी की। टूर्नामेंट सफल रहा, लेकिन भारत का दूसरा विश्व खिताब जीतने का सपना रिकी पोंटिंग ने तोड़ दिया। उनके धुआंधार शतक के बाद भारतीय बल्लेबाजी चरमरा गई। सचिन तेंदुलकर के बल्ले की धमक पूरे टूर्नामेंट में सुनाई दी। वह सबसे ज्यादा रन ठोकने के साथ सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी भी चुने गए।

पोंटिंग के सामने भारतीय टीम बेबस
रिकी पोंटिंग (140 नाबाद) ने तूफानी शतक ठोक ऑस्ट्रेलिया को चैंपियन बनाया। टीम इंडिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया ने 359 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। पोंटिंग 105 रन पर पहला विकेट गिरने के बाद उतरे। पहले पचास रन उन्होंने 74 गेंदों में बनाए। पर अगला पचासा सिर्फ 29 गेंदों में पांच छक्कों और एक चौके की मदद से ठोक डाला। एडम गिलक्रिस्ट ने 48 गेंद पर 57 रन ठोके और डेमियन मार्टिन ने 88 रन बनाए। इसके बाद ग्लेन मैक्ग्रा ने सचिन को पहले ही ओवर में आउट कर भारत को झटका दिया। वीरेंद्र सहवाग ने 81 गेंदों पर 10 चौकों और तीन छक्कों की मदद से सबसे ज्यादा 82 रन बनाए। राहुल द्रविड़ ने 47 रन की पारी खेली। पूरी टीम 39.2 ओवर में 234 रन पर सिमट गई।

ICC World Cup 1999: स्टीव वॉ की कमान में ऑस्ट्रेलिया के सुनहरे दौर का आगाज

पेसरों का टूर्नामेंट में जलवा
तेज गेंदबाजों में ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्ग्रा (22) और ब्रेट ली (21) भी दमदार रहे। ली ने केन्या के खिलाफ हैट्रिक भी लगाई तो मैक्ग्रा ने नामीबिया के खिलाफ 15 रन लेकर सात विकेट लिए। एंडी बिकल ने भी इंग्लैंड के खिलाफ 20 रन लेकर सात विकेट चटकाए। एंड्रयू फ्लिंटॉफ 2.88 के औसत से गेंदबाजी कर सबसे किफायती रहे। 

पाक पर सचिन का कहर
पाक ने सईद अनवर के 101 रन की मदद से भारत को 274 रन का लक्ष्य दिया। सचिन और वीरेंद्र सहवाग ने शुरू से ही पाक के पेसरों वसीम अकरम, वकार यूनुस और शोएब अख्तर पर हल्ला बोला। इस जोड़ी ने 4.5 ओवर में 50 रन जोड़ लिए थे। सचिन का शोएब के पहले ही ओवर में गेंद को थर्ड मैन के ऊपर से छक्के और अगली गेंदों पर दो चौके ठोकना भारतीय क्रिकेटप्रेमियों को आज भी याद है। सचिन ने 98 रन बनाए थे। इसके बाद राहुल द्रविड़ और युवराज सिंह ने 99 रन जोड़ भारत की जीत पक्की कर दी।

वास की पहली तीन गेंदों पर हैट्रिक
श्रीलंका के चमिंडा वास 23 विकेट लेकर टूर्नामेंट के सबसे सफल गेंदबाज रहे। पीटरमारिजबर्ग में बांग्लादेश के खिलाफ पहली तीन गेंदों पर हैट्रिक समेत पहली पांच गेंदों पर चार विकेट लेने का कारनामा उनके नाम दर्ज है। आलोक कपाली छठवें नंबर के पहले बल्लेबाज बने, जिन्हें पहले ही ओवर में बल्लेबाजी के लिए उतरना पड़ा।

World Cup Countdown: श्रीलंका ने सभी को चौंकाते हुए विश्व क्रिकेट में सिक्का जमाया था

दक्षिण अफ्रीका की भयावह गलती
दक्षिण अफ्रीका को डरबन में श्रीलंका पर हर हाल में जीत की दरकार थी।बारिश के बाद 269 रन के बजाय मेजबानों को 45 ओवर में 230 रन का संशोधित लक्ष्य मिला। आखिरी गेंद पर 229 रन बनाने के बाद पूरे देश ने जश्न शुरू कर दिया। पर सबकी खुशी तब काफूर हुई, जब उन्हें पता चला कि ये बराबरी का रन था। प्रबंधन की चूक से मैदान पर उतरे क्लूजनर गलत संदेश लेकर पहुंचे थे।

2003 आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप
673 रन सबसे ज्यादा सचिन ने 11 मैचों में ठोके।
23 विकेट 19 मैचों में श्रीलंका के चमिंडा वास ने लिए।
256 रन से सबसे बड़ी जीत ऑस्ट्रेलिया के नाम।
3 शतक गांगुली ने ठोक मार्क वॉ के रिकॉर्ड की बराबरी की।

World Cup 1992 : संन्यास के बाद लौटे इमरान खान ने पाकिस्तान को बनाया 'क्रिकेट का बादशाह' 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:World Cup Countdown Ricky Ponting explosive 140 broke a billion indians hearts in 2003