फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटICC World Cup 2023 गंवाने के लिए बिना नाम लिए वीरेंद्र सहवाग ने लगाई विराट कोहली-केएल राहुल की वाट, यहां देखें VIDEO

ICC World Cup 2023 गंवाने के लिए बिना नाम लिए वीरेंद्र सहवाग ने लगाई विराट कोहली-केएल राहुल की वाट, यहां देखें VIDEO

आईसीसी वर्ल्ड कप 2023 के फाइनल मैच में टीम इंडिया की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ छह विकेट से हार का गम खत्म होने का नाम ही नहीं लेता है। वीरेंद्र सहवाग ने बिना नाम लिए विराट कोहली और केएल राहुल को फटकारा है।

ICC World Cup 2023 गंवाने के लिए बिना नाम लिए वीरेंद्र सहवाग ने लगाई विराट कोहली-केएल राहुल की वाट, यहां देखें VIDEO
Namita Shuklaलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीWed, 08 May 2024 04:56 PM
ऐप पर पढ़ें

आईसीसी वर्ल्ड कप 2023 का फाइनल मैच 19 नवंबर को खेला गया था और जब टीम इंडिया ने 10 ओवर से पहले तक 70 से ज्यादा रन बना लिए थे, तो ऐसा लग रहा था कि भारत का 2011 के बाद आईसीसी वर्ल्ड कप ट्रॉफी जीतने का सपना पूरा हो जाएगा। कप्तान रोहित शर्मा के आउट होने से पहले तक भारतीय टीम जिस अंदाज में खेल रही थी और उनके आउट होने के बाद जिस अंदाज में खेली, उसमें जमीन-आसमान का फर्क नजर आया। टीम इंडिया के पूर्व सलामी बैटर और 2011 वर्ल्ड कप विनिंग टीम का हिस्सा रहे वीरेंद्र सहवाग ने आईसीसी वर्ल्ड कप 2023 फाइनल में धीमी बैटिंग के लिए विराट कोहली और केएल राहुल की जमकर वाट लगाई, हालांकि उन्होंने दोनों में से किसी का नाम नहीं लिया।

सीएनबीसी आवाज पर सहवाग से जब कहा गया, '10  साल हो गए हैं, आईसीसी ट्रॉफी तो नहीं आई है हमारे पास?' 

इस पर जवाब में सहवाग ने कहा 'अगर पिछले फाइनल में मैं देखूं, जिसमें इंडिया 50 ओवर का वर्ल्ड कप फाइनल ऑस्ट्रेलिया से हारी, तो वो नजर ही नहीं आया कि 11 ओवर से लेकर 40 ओवर के बीच में वो किसी ने फीयरलेस क्रिकेट खेली ही नहीं। सिर्फ एक चौका लगाया हमने, एक या दो... मैं उदाहरण दे सकता हूं कि जब मैं टीम का हिस्सा था, 2007-08 से लेकर 2011 वर्ल्ड कप तक... हम लोग हर एक मैच को ऐसे देखते थे कि ये नॉकआउट मैच है, जैसे वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल है कि हम हार गए तो हम बाहर हो जाएंगे। तो 2007 से लेकर 2011 तक हमने लगातार बहुत सारे टूर्नामेंट जीते और इस तरह से वर्ल्ड कप की तैयारी की। तो शायद इंडियन टीम ये दोबारा कर सकती है कि हर मैच को नॉकआउट मैच समझकर खेले, कि हार गए तो बाहर हो जाएंगे, तो ऐसे में माइंडसेट बदल जाता है। तो मुझे लगता है कि वो माइंडसेट चाहिए ड्रेसिंग रूम में जब आप नॉकआउट में उतरो, तो आप फीयरलेस खेलो, थोड़ी हिम्मत के साथ खेलो और थोड़ा रिस्क लेकर खेलो, मुझे लगता है कि ये टीम इंडिया में मिसिंग है।'

इसे भी पढ़ेंः ऐसा मूड कभी नहीं देखा...राशिद ने खोला पाक से जुड़ा 8 महीने पुराना राज

इसे भी पढ़ेंः रोहित को लेकर आकाश ने भारतीय फैंस को दी टेंशन, बोले- ये चिंता की बात

विराट कोहली ने 63 गेंदों पर 54 रन बनाए थे, जबकि केएल राहुल ने 107 गेंदों पर 66 रनों की पारी खेली थी। ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के खिलाफ भारतीय बैटर्स ने तीसरा विकेट गंवाने के बाद जिस तरह से बैटिंग की, उसकी काफी ज्यादा ओलचना हुई थी। 50 ओवर में भारतीय टीम 240 रनों पर ऑलआउट हो गई थी। रोहित शर्मा ने 31 गेंदों पर 47 रन ठोके थे और उनके अलावा किसी ने भी निडर, निर्भीक होकर ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का सामना नहीं किया था।