फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटइतिहास रचने से एक जीत दूर महिला क्रिकेट टीम, कोच पवार ने सेमीफाइनल के लिए दिए बड़े बदलाव के संकेत

इतिहास रचने से एक जीत दूर महिला क्रिकेट टीम, कोच पवार ने सेमीफाइनल के लिए दिए बड़े बदलाव के संकेत

भारत ने बारबाडोस को 100 रनों से हराकर बर्मिंघम खेलों के सेमीफाइनल में जगह बना ली है, जहां उसका सामना इंग्लैंड से होगा। कोच रमेश पोवार ने आगामी मैचों में बदलाव करने के संकेत दिए हैं।

इतिहास रचने से एक जीत दूर महिला क्रिकेट टीम, कोच पवार ने सेमीफाइनल के लिए दिए बड़े बदलाव के संकेत
Himanshu Singhएजेंसी,बर्मिंघमFri, 05 Aug 2022 08:42 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रमेश पोवार ने 'हम एक उभरती हुई टीम हैं' कहते हुए संकेत दिया कि राष्ट्रमंडल खेलों में आगामी मैचों में विभिन्न संयोजन देखने को मिल सकते हैं। भारत ने राष्ट्रमंडल खेलों में बारबाडोस को 100 रन से हराकर सेमीफाइनल के लिये क्वालीफाई किया।

जेमिमा रोड्रिग्स को तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिये भेजा गया था जिन्होंने 56 रन की अहम पारी खेली। पोवार ने इंग्लैंड के खिलाफ भारत के सेमीफाइनल की पूर्व संध्या पर कहा, ''हम उभरती हुई टीम हैं जिससे प्रक्रियायें और योजनायें बदलेंगी। हम टीम से सर्वश्रेष्ठ कराने की कोशिश कर रहे हैं।''

उन्होंने कहा, ''हमें लगा कि जेमी इसके लिये तैयार है क्योंकि वह इंग्लैंड में कुछ समय से खेल रही है। हमने सोचा कि हम जोखिम लेंगे।'' भारत ने यास्तिका भाटिया की जगह तानिया भाटिया को उतारा।

पोवार ने कहा, ''जब आप ऐसे बड़े टूर्नामेंट में आते हो तो आप खिलाड़ियों के साथ तैयार होते हो और सभी 15 खिलाड़ी उपलब्ध होते हैं। यह द्विपक्षीय सीरीज नहीं है, जहां आप एक खिलाड़ी को आजमा कर देख रहे हो और देखते हो कि वह क्या कर सकता है। यह बड़ा टूर्नामेंट है और हमारे पास जो भी खिलाड़ी हैं, हम उनका इस्तेमाल करना चाहते हैं।''

एशिया कप 2022 में क्यों पाकिस्तान पर भारी पड़ सकता है भारत, राशिद लतीफ ने समझाया

भारत एक पदक पक्का करने से महज एक जीत दूर है और पोवार ने कहा कि महिला खिलाड़ी लंबी कूद के खिलाड़ी मुरली श्रीशंकर के रजत पदक के प्रदर्शन से काफी प्रेरित हैं। पोवार ने कहा, ''इससे हमारे रोंगटे खड़े हो गये। हम लंबी कूद में अपने खिलाड़ी को रजत पदक जीतते हुए देख रहे थे, वह लड़का इतनी कोशिश कर रहा था। हमारा काम उसकी तरह ही कड़ा प्रदर्शन करने की कोशिश करना है, वह हमारे लिये प्रेरणास्रोत था। '' 

epaper