DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   क्रिकेट  ›  अफरीदी और गंभीर में सुलह कराना चाहते हैं वकार यूनिस, दोनों को दी सलाह

क्रिकेटअफरीदी और गंभीर में सुलह कराना चाहते हैं वकार यूनिस, दोनों को दी सलाह

एजेंसी,नई दिल्लीPublished By: Namita Shukla
Mon, 01 Jun 2020 06:21 PM
अफरीदी और गंभीर में सुलह कराना चाहते हैं वकार यूनिस, दोनों को दी सलाह

टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर और पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी के बीच की खटास किसी से छिपी नहीं है। दोनों ऑन द फील्ड और ऑफ द फील्ड एक-दूसरे से उलझते हुए कई बार नजर आ चुके हैं, इस बीच पाकिस्तान के बॉलिंग कोच वकार यूनिस ने अफरीदी और गंभीर से सोशल मीडिया पर लंबे समय से चली आ रही खींचातानी को खत्म कर समझदारी से बात करने की अपील की है। गंभीर और अफरीदी सोशल मीडिया पर राजनीति से लेकर क्रिकेट तक कई मुद्दों पर एक-दूसरे पर कटाक्ष करते रहते हैं।

'दोनों या तो मामला सुलझा लें या फिर शांत बैठें'

अपनी ऑटोबायोग्राफी में भी अफरीदी ने गंभीर पर कटाक्ष करते हुए लिखा था, 'वो ऐसे बर्ताव करते है जैसे उनमें डॉन ब्रैडमैन और जेम्स बॉन्ड वाले गुण हों। उनका रवैया आक्रामक रहता है लेकिन उनके रिकॉर्ड अच्छे नहीं हैं।' गंभीर ने इसके जवाब में कहा था कि वो अफरीदी को खुद ही मनोचिकित्सक के पास ले जाएंगे। वकार ने कहा, 'गौतम गंभीर और शाहिद अफरीदी के बीच पिछले कुछ समय से तनातनी चल रही है। मुझे लगता है कि दोनों को होशियार, समझदार और शांत होने की जरूरत है।'

जब पठान ने धोनी से कहा था- मैं अख्तर को स्लेज करूंगा, आप ठहाके लगाना

उन्होंने कहा, 'सोशल मीडिया पर अगर आप ऐसा करते हैं, तो लोग इसे पसंद करेंगे, इसका मजा लेंगे। मुझे लगता है कि उन दोनों को समझदारी से काम लेने की जरूरत है।' सोशल मीडिया पर दोनों की तीखी प्रतिक्रियाओं पर नजर रखने वाले वकार ने सलाह दी कि दोनों को मिलकर इस मुद्दे को सुलझा लेना चाहिए। उन्होंने कहा, 'यह लंबा खिंचता जा रहा है। दोनों को मेरी सलाह होगी कि कहीं मिलकर इस बारे में बात करें और अगर ऐसा संभव नहीं है तो शांत रह सकते हैं।'

'दोनों देश के लोग चाहते हैं कि द्विपक्षीय सीरीज हो'

अफरीदी ने पिछले महीने कश्मीर और प्रधानमंत्री के खिलाफ भारत विरोधी टिप्पणी की थी, जिसके बाद पूर्व भारतीय खिलाड़ियों युवराज सिंह और हरभजन सिंह ने उनसे संबंध तोड़ लिए। इससे पहले पंजाब के दोनों खिलाड़ियों ने अफरीदी के एनजीओ को समर्थन दिया था। वकार ने एक प्रश्न के जवाब में कहा कि भारत और पाकिस्तान को नियमित तौर पर द्विपक्षीय सीरीज खेलनी चाहिए। उन्होंने कहा, 'अगर आप दोनों देशों के लोगों से पूछेंगे कि क्या पाकिस्तान और भारत को एक-दूसरे का खिलाफ खेलना चाहिए। लगभग 95 प्रतिशत लोग इससे सहमत होंगे कि इन दोनों के बीच क्रिकेट खेला जाना चाहिए।'

टीम से बाहर होने को लेकर इरफान पठान ने धोनी पर साधा निशाना, उठाए सवाल

इस पूर्व तेज गेंदबाज को उम्मीद है कि दोनों देश निकट भविष्य में द्विपक्षीय सीरीज में खेलेंगे। उन्होंने कहा, 'मुझे उम्मीद है कि भारत और पाकिस्तान द्विपक्षीय सीरीज में खेलेंगे। ये मुकाबलें कहा खेले जाएंगे यह नहीं पता, लेकिन मुझे उम्मीद है कि यह पाकिस्तान या भारत में होगा।'
 

संबंधित खबरें