फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटIPL 2024: 400 करोड़ का मुनाफा कमा रहे... संजीव गोयनका- केएल राहुल विवाद पर वीरेंद्र सहवाग की दो टूक

IPL 2024: 400 करोड़ का मुनाफा कमा रहे... संजीव गोयनका- केएल राहुल विवाद पर वीरेंद्र सहवाग की दो टूक

Virendra Sehwag on Sajive Goenka KL Rahul Controversy: संजीव गोयनका और केएल राहुल मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब वीरेंद्र सहवाग ने भी इसको लेकर अपनी राय रखी और मालिकों को टीम से दूर रहने को कहा।

IPL 2024: 400 करोड़ का मुनाफा कमा रहे... संजीव गोयनका- केएल राहुल विवाद पर वीरेंद्र सहवाग की दो टूक
Deepakलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 13 May 2024 08:09 PM
ऐप पर पढ़ें

Virendra Sehwag on Sajive Goenka KL Rahul Controversy: संजीव गोयनका और केएल राहुल मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब वीरेंद्र सहवाग ने भी इसको लेकर अपनी राय रखी है। सहवाग के मुताबिक टीम मालिकों को खिलाड़ियों और कप्तान से बात करनी ही नहीं चाहिए। बता दें कि हाल ही में एलएसजी टीम के मालिक संजीव गोयनका केएल राहुल पर भड़क उठे थे। इसके बाद से टीम मालिकों और खिलाड़ियों के रिश्तों पर पर लगातार बातें हो रही हैं। वीरेंद्र सहवाग ने कहाकि जब भी टीम का मालिक ड्रेसिंग में आए तो सिर्फ मोटिवेट करने के लिए आए। अगर मालिक आकर यह पूछने लगे कि क्या चल रहा है? कैसा हो रहा है तो यह ठीक बात नहीं है। साथ ही सहवाग ने यह भी कह डाला कि मालिकों को केवल प्रॉफिट और लॉस से मतलब होना चाहिए।

मालिक को प्रॉफिट से मतलब
वीरेंद्र सहवाग ने कहाकि टीम को कोच और कप्तान चलाता है। ऐसे में अगर टीम मालिक आकर दखल देता है। मैनेजमेंट से पूछता है कि क्या अच्छा हो रहा है, क्या खराब हो रहा है तो फिर दिक्कत होने लगती है। उन्होंने कहाकि मालिक का इंवॉल्वमेंट टीम के कोच, कप्तान और खिलाड़ियों के साथ नहीं होना चाहिए। वीरेंद्र सहवाग ने कहाकि टीम मालिक लोग बिजनेसमैन हैं। यह प्रॉफिट-लॉस ही समझते हैं, लेकिन लॉस तो हो ही नहीं रहा है, फिर आपको क्या चिंता है। भारत के पूर्व धाकड़ ओपनर ने कहाकि आप तो 400 करोड़ का प्रॉफिट कमा रहे हैं। उन्होंने कहाकि आपका ऐसा बिजनेस है कि जिसमें आपको कुछ नहीं करना है। सबकुछ करने वाले दूसरे बंदे हैं और फिर भी आपको प्रॉफिट हो रहा है। ऐसे में आपका काम सिर्फ उनको मोटिवेट करना होना चाहिए। 

साझा किया अपना अनुभव
इसके साथ ही वीरेंद्र सहवाग ने टीम मालिकों के साथ अपना निजी अनुभव भी साझा किया। उन्होंने कहाकि जब मैं छोड़कर गया था तो मुझे लगता था कि वहां पर टीम मालिक हौसला नहीं बढ़ा रहे थे। इसलिए मैं वहां से निकल आया। वीरू ने कहाकि मैं टीम बना रहा हूं। मैं टीम को चला रहा हूं। कोई और आकर मेरे प्लेयरों से पूछे और उन पर गुस्सा करे तो मुझे अच्छा नहीं लगेगा। इसके बाद सहवाग ने एलएसजी के टीम मालिक के मैदान पर बिहैवियर का भी जिक्र किया। उन्होंने कहाकि ऐसे में बेहतर होगा कि आप निकल जाओ। कोई और टीम को देखे और चलाए। अगर मैं टीम चला रहा हूं तो मैं जवाबदेह हूं। अगर टीम मालिक खिलाड़ी और कप्तान के पास सीधे जाने लगेंगे तो वह भी सोचेगा कि चलो यार कहीं और चलते हैं। कोई और ले लेगा।