DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वीरेंद्र सहवाग ने कहा- कोई क्रिकेटर कैसे बता सकता है कि वो अगले दो साल कब, कहां रहेगा

नजफगढ़ के नवाब के नाम से मशहूर पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज सहवाग ने बुधवार को कहा, 'डोप टेस्ट कोई नई बात नहीं है। पहले भी क्रिकेटरों के डोप टेस्ट होते रहे है।

virender sehwag jpg

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) क्रिकेटरों के डोप टेस्ट राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) के तहत कराने के लिए तैयार हो गया है लेकिन पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का मानना है कि क्रिकेटरों को नाडा के पता ठिकाना नियम को लेकर गहरी आपत्ति होगी।

नजफगढ़ के नवाब के नाम से मशहूर पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज सहवाग ने बुधवार को कहा, 'डोप टेस्ट कोई नई बात नहीं है। पहले भी क्रिकेटरों के डोप टेस्ट होते रहे है। हमने घरेलू क्रिकेट में डोप टेस्ट कराए हैं, आईपीएल में डोप टेस्ट कराए हैं इसलिए यह कोई नई बात नहीं है।' सहवाग ने कहा, 'मुझे लगता है कि डोप टेस्ट में भारतीय क्रिकेटरों को पता ठिकाना नियम पर आपत्ति हो सकती है। हम आईसीसी को कैसे बताएंगे कि अगले एक-दो साल में हम कब और कहां रहेंगे। अगर मैं कोई स्थान बता दूं और फिर मैं वहां ना मिलूं तो ये तो नियम का उल्लंघन ही हो जाएगा। इसलिए मैं कह रहा हूं कि इस नियम पर क्रिकेटरों को आपत्ति हो सकती है।'

वीरेंद्र सहवाग ने दी सलाह किस पूर्व कप्तान को बनना चाहिए टीम इंडिया का चीफ सिलेक्टर

शास्त्री ने शेयर की विव रिचर्ड्स के साथ फोटो, लोगों ने कर दिया TROLL

उन्होंने कहा, 'अभी तक मौजूदा क्रिकेटरों में से किसी ने इस नियम को लेकर कुछ नहीं कहा है। ये बात अभी तक आईसीसी, नाडा और बीसीसीआई के बीच ही चल रही है। बीसीसीआई क्रिकेटरों के डोप टेस्ट नाडा के तहत कराने पर हाल ही में तैयार हो गया था।' युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ को डोपिंग में फेल रहने के बाद आठ महीने का प्रतिबंध लगने पर बीसीसीआई ने ये कदम उठाया था। इससे पहले तक बीसीसीआई क्रिकेटरों के डोप टेस्ट के लिए इनकार करता रहा था और खिलाड़ियों की सबसे बड़ी आपत्ति पता ठिकाना नियम को लेकर ही थी।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:virender sehwag on nada said how cricketers will tell you that where will they be in next 2 years