DA Image
हिंदी न्यूज़ › क्रिकेट › Airstrike: क्रिकेटरों ने किए ये ट्वीट्स, वीरू ने कहा- सुधर जाओ नहीं तो सुधार देंगे
क्रिकेट

Airstrike: क्रिकेटरों ने किए ये ट्वीट्स, वीरू ने कहा- सुधर जाओ नहीं तो सुधार देंगे

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Namita
Tue, 26 Feb 2019 03:42 PM
Airstrike: क्रिकेटरों ने किए ये ट्वीट्स, वीरू ने कहा- सुधर जाओ नहीं तो सुधार देंगे

पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) के बाद भारतीय वायुसेना (Indian AirForce) ने एलओसी (LoC) पार कर बड़ी कार्रवाई की है। इस पर भारतीय क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag), गौतम गंभीर और मोहम्मद कैफ ने अपनी प्रतिक्रिया सोशल मीडिया के जरिए दी है। वीरेंद्र सहवाग ने राहुल द्रविड़ के साथ अपनी एक फोटो शेयर की, जिसमें दोनों आर्मी यूनिफॉर्म में नजर आ रहे हैं।

वीरू ने लिखा, 'लड़कों ने बहुत अच्छा काम किया। सुधर जाओ नहीं तो सुधार देंगे #airstrike' वहीं गौतम गंभीर ने ट्विटर पर लिखा, 'जय हिंद।'

इन दोनों के अलावा मोहम्मद कैफ ने भी सोशल मीडिया के जरिए अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट में लिखा, 'इंडियन एयरफोर्स को सलाम, शानदार।'

मिराज-2000 के 12 विमानों ने एलओसी पार कर आतंकी कैंपों पर एक हजार किलो के बम गिराए। इससे वहां मौजूद सभी आतंकी कैंप ध्वस्त हो गए। यह हमला मंगलवार सुबह 3:30 पर किया गया। यह जानकारी न्यूज एजेंसी एएनआई ने भारतीय वायुसेना के सूत्रों के हवाले से दी है।

जानें, मिराज-2000 के बारे में सबकुछ, Pok में तबाह किए आतंकियों के कैंप

IAF ने LoC पर तबाह किए जैश के कैंप, 200 की मौत: सूत्र

सूत्रों ने पीटीआई को बताया कि भारतीय वायुसेना के विभिन्न लड़ाकू विमानों ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बालाकोट में पाकिस्तान स्थित कई आतंकवादी समूहों के शिविरों को सफलतापूर्वक नष्ट कर दिया। गौरतलब है कि इससे पहले 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में जैश-ए-मोहम्मद के फिदायिन हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। कई अन्य घायल हुए थे। जैश के आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों को ले जा रही बस को टक्कर मार दी। केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के 2500 से अधिक कर्मी 78 वाहनों के काफिले में जा रहे थे। इनमें से अधिकतर अपनी छुट्टियां बिताने के बाद अपनी ड्यूटी पर लौट रहे थे।

इस आर्टिकल को शेयर करें
लाइव हिन्दुस्तान टेलीग्राम पर सब्सक्राइब कर सकते हैं।आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं? हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

सब्सक्राइब
अपडेट रहें हिंदुस्तान ऐप के साथ ऐप डाउनलोड करें

संबंधित खबरें