DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   क्रिकेट  ›  SAvIND: कोहली का दावा, टीम इंडिया में आया काफी बदलाव, लेकिन भ्रम में नहीं

SAvIND: कोहली का दावा, टीम इंडिया में आया काफी बदलाव, लेकिन भ्रम में नहीं

नई दिल्ली, लाइव हिन्दुस्तानPublished By: Ratnakar
Sat, 30 Dec 2017 09:32 PM
कोहली ने जीत का दिलाया भरोसा, लेकिन भ्रम में नहीं
1/2

कोहली ने जीत का दिलाया भरोसा, लेकिन भ्रम में नहीं

भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका के 2013 में हुए अंतिम दौरे के बाद काफी बदल गयी है लेकिन फिर भी कप्तान विराट कोहली किसी भी 'भ्रम में नहीं हैं क्योंकि वह जानते हैं कि पांच जनवरी से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुरू हो रही टेस्ट सीरीज से क्या उम्मीद की जाये।

कोहली ने टीम के शुरूआती अभ्यास सत्र के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, ''हमें यहां जिस तरह की चुनौती मिलेगी, हम इसके लिये तैयार हैं। हम किसी भी गलतफहमी में नहीं हैं कि हमें क्या पेश किया जायेगा। पांच जनवरी आने दीजिये, हम इसके लिये तैयार हैं। 

रणजी ट्रॉफी फाइनल: गुरबानी की हैट्रिक से लड़खड़ायी दिल्ली, VIDEO में देखें खतरनाक गेंदबाजी

भारत ने 1992 से दौरा शुरू करने के बाद दक्षिण अफ्रीका में कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीती है और मौजूदा टीम में ऐसे 13 खिलाड़ी हैं जो यहां 2013-14 के अंतिम दौरे के दौरान खेल चुके हैं।

कोहली ने कहा, ''जहां तक खेल समझने की बात है तो हम अंतिम चार वर्षों में काफी आगे बढ़ चुके हैं। व्यक्तिगत रूप से मैं चार साल पहले की तुलना में अब काफी अच्छी तरह से खेल को समझता हूं। मैंने कई उतार चढ़ाव देखे हैं। हम अभी जहां भी हैं, वहां पूरी तरह से सहज हैं और व्यक्तिगत रूप से और टीम के तौर पर बेहतर स्थिति में हैं। 

अगली स्लाइड में पढ़ें : कोहली ने किया टीम इंडिया विश्लेषण, बताया किस स्थिति में है भारतीय टीम

कोहली जानते हैं टीम इंडिया की स्थिति
2/2

कोहली जानते हैं टीम इंडिया की स्थिति

कोहली ने भारतीय टीम का जिक्र करते हुए कहा, ''हम जानते हैं कि बतौर टीम कैसे वापसी की जाये, हम जानते हैं कि जब हमें मौका बनाने की जरूरत है तो इसे कैसे बनाया जाये।

VIDEO: टेस्ट सीरीज से पहले कोहली-राहुल की खतरनाक तैयारी

उन्होंने कहा, पिछले चार वर्षों में टीम में स्थितियों को बेहतर तरीके से पढ़ने की समझ आ गयी है और मैं जिस उत्साह की बात कर रहा था, इस समझ से यह उत्साह बना हुआ है। पांच जनवरी को जब मैच शुरू होगा तो हम जानते हैं कि हमें क्या करने की जरूरत है। 
 

संबंधित खबरें