फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटइंग्लैंड को ईंट का जवाब पत्थर से देना होगा, जानिए श्रीलंका के अनुभवी खिलाड़ी एंजेलो मैथ्यूज ने ऐसा क्यों कहा?

इंग्लैंड को ईंट का जवाब पत्थर से देना होगा, जानिए श्रीलंका के अनुभवी खिलाड़ी एंजेलो मैथ्यूज ने ऐसा क्यों कहा?

एंजेलो मैथ्यूज को पहले श्रीलंका की 15 सदस्यीय टीम में शामिल नहीं किया गया था लेकिन वह रिजर्व के तौर पर आए। मैच से पहले उन्होंने इरादे साफ कर दिए हैं और कहा कि श्रीलंका इंग्लैंड को कड़ी टक्कर देगी।

इंग्लैंड को ईंट का जवाब पत्थर से देना होगा, जानिए श्रीलंका के अनुभवी खिलाड़ी एंजेलो मैथ्यूज ने ऐसा क्यों कहा?
Himanshu Singhएजेंसी,बेंगलुरूWed, 25 Oct 2023 08:13 PM
ऐप पर पढ़ें

अनुभवी हरफनमौला एंजेलो मैथ्यूज ने मंगलवार को कहा कि श्रीलंका टीम को इंग्लैड के आक्रामक प्रदर्शन के लिये तैयार रहते हुए ईंट का जवाब पत्थर से देना होगा। श्रीलंका और गत चैम्पियन इंग्लैंड बृहस्पतिवार को विश्पव कप के मैच में आमने सामने होगे और दोनों टीमों के लिये यह करो या मरो का मुकाबला होगा। 
मैथ्यूज ने कहा, ''हमें इंग्लैंड जैसी मजबूत टीम को हराने के लिS अपना सर्वश्रेष्ठ खेल दिखाना होगा। अपनी क्षमता के अनुरूप अभी तक नहीं खेल पाने के बावजूद वह बहुत खतरनाक टीम है।''

उन्होंने कहा, ''यह अच्छा विकेट है और आउटफील्ड छोटी है। हमें ईंट का जवाब पत्थर से देने के लिए तैयार रहना होगा क्योकि वे आक्रामक खेल दिखाएंगे लेकिन हम इस चुनौती के लिए तैयार हैं।''

मैथ्यूज को पहले श्रीलंका की 15 सदस्यीय टीम में शामिल नहीं किया गया था लेकिन वह रिजर्व के तौर पर आए। इसके बाद मथीशा पथिराना की चोट के कारण उन्हें टीम में लिया गया। 

उन्होंने कहा, ''मैने पिछले तीन साल में सफेद गेंद का क्रिकेट ज्यादा नहीं खेला है लेकिन उम्मीद है कि अपने अनुभव के दम पर इस विश्व कप में अच्छा प्रदर्शन कर सकूंगा। मुझे टीम में शामिल होने की उम्मीद नहीं थी लेकिन मैं कड़ा अभ्यास कर रहा था।''

माइकल वॉन की बड़ी भविष्यवाणी, कहा- विराट कोहली वर्ल्ड कप फाइनल में लगाएंगे 50वां वनडे शतक, टूटेगा सचिन का

इंग्लैंड मौजूदा टूर्नामेंट में चार में से तीन मैच हार चुका है और सेमीफाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को बरकरार रखने के लिए उसे आगामी मुकाबले जीतने होंगे। गत चैंपियन इंग्लैंड के चार मैच में श्रीलंका के समान दो अंक हैं और वे तालिका में नौवें स्थान पर हैं। जल्दी बाहर होने से बचने के लिए इंग्लैंड को हर विभाग में सुधार की जरूरत है, विशेषकर उनके बल्लेबाजों को आक्रामक होने की जरूरत है। श्रीलंका ने पथिराना के विकल्प के रूप में अनुभवी एंजेलो मैथ्यूज को टीम में शामिल किया है जबकि उसके पास दुष्मंता चमीरा के रूप में तेज गेंदबाज उपलब्ध था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें