फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटविदेशी टी20 लीग क्यों नहीं खेलते भारतीय खिलाड़ी? U19 WC विजेता कप्तान बोले- अगर ऐसा हुआ तो खत्म हो जाएगा...

विदेशी टी20 लीग क्यों नहीं खेलते भारतीय खिलाड़ी? U19 WC विजेता कप्तान बोले- अगर ऐसा हुआ तो खत्म हो जाएगा...

भारत के अलावा अन्य सभी देशों के खिलाड़ी दुनियाभर की टी20 लीग्स में खेलते नजर आते हैं। भारतीय क्रिकेटर संन्यास लेने या फिर बीसीसीआई के केंद्रीय अनुबंध से हटने के बाद ही विदेश में खेल सकते हैं।

विदेशी टी20 लीग क्यों नहीं खेलते भारतीय खिलाड़ी? U19 WC विजेता कप्तान बोले- अगर ऐसा हुआ तो खत्म हो जाएगा...
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीThu, 29 Feb 2024 09:45 AM
ऐप पर पढ़ें

भारत के 2012 अंडर-19 वर्ल्ड कप विजेता कप्तान उन्मुक्त चंद, जो अब संयुक्त राज्य अमेरिका का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं, उनका मानना है कि अगर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अपने खिलाड़ियों को विदेशी लीग में भाग लेने की अनुमति देता है तो उससे उनका डोमेस्टिक क्रिकेट खत्म हो सकता है। भारत के अलावा अन्य सभी देशों के खिलाड़ी दुनियाभर की टी20 लीग्स में खेलते नजर आते हैं, जबकि भारतीय खिलाड़ियों को सिर्फ आईपीएल में ही खेलने की अनुमति है। भारतीय क्रिकेटर संन्यास लेने या फिर बीसीसीआई के केंद्रीय अनुबंध से हटने के बाद ही विदेश में खेल सकते हैं। 

WPL के दौरान एलिसा हीली बनीं बाहुबली, मैदान पर घुसे फैन को कुछ इस अंदाज में सिखाया सबक

हाल ही में जब उन्मुक्त चंद से पूछा गया कि क्या बीसीसीआई को अपने खिलाड़ियों को विदेशी लीग्स में खेलने की अनुमति दी जानी चाहिए या नहीं? इस पर उन्होंने स्पोर्ट्सनाउ से कहा,  "मुझे लगता है कि इसमें कुछ तकनीकी बातें शामिल हैं, इसलिए मुझे लगता है कि बीसीसीआई खिलाड़ियों को अन्य लीगों में खेलने की अनुमति नहीं देता है। जाहिर है, एक खिलाड़ी के रूप में आप अधिक से अधिक खेलने के अवसर चाहते हैं। आपने कभी-कभी ऐसा भी देखा होगा कि डेविड वॉर्नर जैसे खिलाड़ी आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन कर ऑस्ट्रेलियाई टीम में वापसी करते हैं। तो यह अपनी राष्ट्रीय टीम में वापसी करने का भी रास्ता है।"

मिचेल जॉनसन ने स्टीव स्मिथ पर लगाए गंभीर आरोप, वह फ्रेंचाइजी क्रिकेट खेलने के लालच में...

उन्होंने आगे कहा, "भारतीय डोमेस्टिक क्रिकेट के दौरान ज्यादातर टी20 टूर्नामेंट खेले जाते हैं। जब रणजी, टी20 या फिर वनडे विजय हजारे खेला जाता है तब अगर खिलाड़ी बाहर जाने लग जाए तो डोमेस्टिक क्रिकेट खत्म हो जाएगा। इसमें कुछ तकनीकी बातें शामिल हैं... इसका जवाब बीसीसीआई को देना है लेकिन एक खिलाड़ी के रूप में, अगर आप मुझसे पूछें तो मैं कहीं भी और हर जगह जाना चाहूंगा।"

NZ vs AUS: रिटायरमेंट के बाद भी नील वैगनर को मिली 'फुल इज्जत', टीम के साथ नेशनल एंथम में हुए शामिल

साल 2102 में जब उन्मुक्त चंद ने भारतीय टीम को अंडर-19 वर्ल्ड कप जिताया तो उनको इंडियन क्रिकेट का आने वाला सुपरस्टार माना जा रहा था। हर किसी को यही उम्मीद थी कि दिल्ली का लड़का आने वाले सालों में इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने बल्ले के दम पर राज करेगा। हालांकि, उस साल के बाद ही उन्मुक्त का नाम धीरे-धीरे गायब होता गया और वह एक दफा भी टीम इंडिया की जर्सी पहनकर मैदान पर नहीं उतर सके। आईपीएल में भी उन्हें ज्यादा मौके नहीं मिले। अब वह भारतीय क्रिकेट से संन्यास लेकर अमेरिका शिफ्ट हो गए हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें