DA Image
हिंदी न्यूज़ › क्रिकेट › ICC वर्ल्ड कप सुपर लीग: थर्ड अम्पायर करेगा फ्रंट-फुट नो बॉल की निगरानी
क्रिकेट

ICC वर्ल्ड कप सुपर लीग: थर्ड अम्पायर करेगा फ्रंट-फुट नो बॉल की निगरानी

एजेंसी,नई दिल्लीPublished By: Mohan Kumar
Mon, 27 Jul 2020 08:34 PM
ICC वर्ल्ड कप सुपर लीग: थर्ड अम्पायर करेगा फ्रंट-फुट नो बॉल की निगरानी

इंग्लैंड और आयरलैंड के बीच 30 जुलाई से तीन मैचों की वनडे सीरीज के साथ आईसीसी वर्ल्ड कप सुपर लीग की शुरुआत हो जाएगी और इसमें धीमे ओवर रेट पर टीमों के अंक काटे जाएंगे तथा फ्रंट फुट नो बॉल की निगरानी खास तौर पर तीसरा अम्पायर करेगा। फ्रंट फुट नो बॉल को लेकर यह नियम वनडे और टी-20 दोनों में लागू होगा। पिछले कुछ सालों में ऐसे कई मामले देखने में आए हैं जब मैदानी अम्पायर फ्रंट फुट नो बॉल नहीं देख पाता है और बल्लेबाज को ऐसी बॉल पर आउट होने की सूरत में नुकसान उठाना पड़ता है। ऐसी बॉल पर फ्री हिट मिलने का बल्लेबाज को फायदा भी होता है।

ENGvWI: स्टुअर्ट ब्रॉड से इम्प्रैस हुए पूर्व कप्तान माइक एथर्टन, कहा-उनमें 600 विकेट लेने का दम है

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने इस तकनीक का इस्तेमाल भारत और वेस्ट इंडीज के बीच पिछले साल वनडे सीरीज के दौरान किया था। इसके अच्छे परिणाम देखने में आए थे जिसके बाद आईसीसी ने इस वर्ष के शुरू में ऑस्ट्रेलिया में हुए महिला टी-20 विश्व कप में इसका इस्तेमाल किया था। ऊंचाई के लिए नो बॉल का फैसला मैदानी अम्पायर के जिम्मे ही रहेगा। सुपर लीग में धीमे ओवर रेट पर टीमों के अंक काटे जाएंगे। सुपर लीग में जीत के लिए 10 अंक और टाई, परिणाम नहीं या रद्द मैच के लिए पांच अंक दिए जाएंगे।

आयरलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए इंग्लैंड की 14 सदस्यीय टीम घोषित

आईसीसी ने कहा कि सुपर लीग में हर धीमे ओवर के लिए एक अंक कटेगा। लीग में हर टीम को प्रति पारी दो डीआरएस मिलेंगे। गत जून में वनडे और टी-20 में एक डीआरएस से बढ़ाकर दो डीआरएस करने की घोषणा की गई थी। कोरोना के कारण नियमों में कुछ परिवर्तन किए गए हैं जिसकी हर तीन महीने में समीक्षा की जाएगी। सुपर लीग समाप्त होने की अंतिम तारीख अभी तय नहीं की गई है। यह दो वर्ष की लीग होगी। 2023 के वनडे विश्व कप को फरवरी-मार्च से बढ़ाकर अक्टूबर-नवम्बर कर दिया गया है जिससे लीग को समाप्त होने के लिए और समय मिल जाएगा।  
 

संबंधित खबरें