DA Image
28 सितम्बर, 2020|3:19|IST

अगली स्टोरी

मिसबाह को बहुत अधिक जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं : मोहसिन खान

misbah-ul-haq  ap

पाकिस्तान की टीम इंग्लैंड दौरे में अब तक एक भी मैच नहीं जीत पाई है, जिससे मिसबाह उल हक पर दबाव बढ़ गया है। ऐसे में अब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) इस पूर्व कप्तान को तीनों प्रारूपों में मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता बनाए रखने की रणनीति पर पुनर्विचार कर सकता है। 

पाकिस्तान ने तीन टेस्ट मैचों की सीरीज 0-1 से गंवाई जबकि टी-20 सीरीज में अभी वह 0-1 से पीछे चल रहा है। तीन मैचों की सीरीज का पहला मैच बारिश के कारण पूरा नहीं हो पाया था जबकि दूसरा टी20 इंग्लैंड ने पांच विकेट से जीता था। 

ENG vs PAK, 3rd T20I: टी-20 में लगातार छठी सीरीज जीतने उतरेगा इंग्लैंड, जानें कैसा हो सकता है दोनों टीमों का प्लेइंग XI

पूर्व में टेस्ट कप्तान, मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता रहे मोहसिन खान ने कहा, ''तीसरे और अंतिम टी20 मैच का काफी महत्व है क्योंकि पहले ही यह आम राय बन रही है कि मिसबाह मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता की जिम्मेदारियां नहीं संभाल पा रहे हैं और वह भी तीनों प्रारूपों में।''

मिसबाह के रहते हुए पाकिस्तान पिछले साल अक्टूबर से केवल दो मैच जीत पाया है और वह भी उसने बांग्लादेश के खिलाफ जीते। उसने श्रीलंका से तीनों मैच गंवाये, आस्ट्रेलिया ने उसे 2-0 से हराया और अब इंग्लैंड में भी उसे हार का सामना करना पड़ा है। 

ENG vs PAK, 3rd T20I: जानें कैसा रहेगा आज मैनचेस्टर के मौसम का हाल

मोहसिन ने कहा, ''जब मैं मुख्य चयनकर्ता था तो बोर्ड ने मुझे 2011 में अंतरिम मुख्य कोच बनाया। मैंने तब चेयरमैन एजाज बट से कहा कि वह मुझे मुख्य चयनकर्ता की जिम्मेदारियों से मुक्त कर दें क्योंकि मैं दोनों भूमिकाएं नहीं निभा सकता।''

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Too much on Misbah ul haq plate says Former chief selector Mohsin Khan