फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटटिम पेन ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को दी 'खुराफाती सलाह', बोले- T20 WC में ये हेरफेर करो और इंग्लैंड की लंका लगाओ

टिम पेन ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को दी 'खुराफाती सलाह', बोले- T20 WC में ये हेरफेर करो और इंग्लैंड की लंका लगाओ

Tim Paine on AUS vs SCO T20 World Cup 2024: टिम पेन ने टी20 वर्ल्ड कप के बीच ऑस्ट्रेलियाई टीम को एक 'खुराफाती सलाह' सलाह दी है। उन्होंने बताया कि इंग्लैंड को टूर्नामेंट से बाहर कैसे किया जा सकता है?

टिम पेन ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को दी 'खुराफाती सलाह', बोले- T20 WC में ये हेरफेर करो और इंग्लैंड की लंका लगाओ
Md.akram एजेंसी,मेलबर्नWed, 12 Jun 2024 07:02 PM
ऐप पर पढ़ें

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व टेस्ट कप्तान टिम पेन चाहते हैं कि मिचेल मार्श और उनकी टीम स्कॉटलैंड के खिलाफ अपने अंतिम ग्रुप मैच में 'हेरफेर' करे जिससे कि इंग्लैंड को टी20 वर्ल्ड कप 2024 से बाहर किया जा सके। गत चैंपियन इंग्लैंड बारिश के कारण एक मैच रद्द होने और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बड़ी हार के बाद मुश्किल स्थिति में है और उसकी सुपर आठ में जगह बनाने की राह आसान नहीं है। ऑस्ट्रेलिया पहले ही सुपर आठ में जगह बना चुका है।

'और मैं मजाक नहीं कर रहा हूं'

पेन ने 'एसईएन रेडियो' से कहा, ''बिल्कुल उन्हें ऐसा (परिणाम में हेरफेर) करना चाहिए और मैं मजाक नहीं कर रहा हूं। मैंने पिछले कुछ दिनों में लोगों से इस बारे में बात की है। मैं पूरी तरह गंभीर हूं।'' ग्रुप बी की मौजूदा स्थिति के अनुसार इंग्लैंड सिर्फ एक अंक और माइनस 1.800 के नेट रन रेट के साथ चौथे स्थान पर है। उसके दो और मैच बचे हैं। भले ही वह अपने दोनों मैच जीत लें लेकिन अंकों के मामले में स्कॉटलैंड से आगे नहीं निकल सकता जो पांच अंक और प्लस 2.164 के नेट रन रेट के साथ दूसरे स्थान पर है।

'स्कॉटलैंड को बस करीब आने दें'

सुपर आठ में पहुंचने के लिए जोस बटलर और उनकी टीम को ना केवल अपने बचे हुए दोनों मैच बड़े अंतर से जीतने होंगे, बल्कि यह भी उम्मीद करनी होगी कि चिर प्रतिद्वंद्वी और तालिका में शीर्ष पर चल रहा ऑस्ट्रेलिया स्कॉटलैंड को बड़ी शिकस्त दे जिससे कि उसका नेट रन रेट प्रभावित हो। पेन ने स्पष्ट किया कि वह नहीं चाहते कि ऑस्ट्रेलिया मैच हारे, बल्कि वह चाहते हैं कि मुकाबला इतना करीबी हो कि इंग्लैंड बाहर हो जाए। उन्होंने कहा, ''मुझे नहीं पता कि नेट रन रेट की स्थिति क्या है। आपको मुकाबला हारने की जरूरत नहीं है। मुझे लगता है कि वे स्कॉटलैंड को बस करीब आने दे सकते हैं।''

'दोनों मैच 50 रन से जीतने होंगे'

पेन ने कहा, ''काफी आगे के बारे में नहीं सोचते। स्कॉटलैंड अच्छा प्रदर्शन कर सकता है। मान लीजिए कि स्कॉटलैंड ने पहले बल्लेबाजी की और 140 रन बनाए और हमने 19.5 ओवर में इसे हासिल कर लिया ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि उन्हें नेट रन रेट में बड़ा नुकसान नहीं हो।'' उन्होंने कहा, ''मुझे लगता है कि स्कॉटलैंड के नेट रन रेट तक पहुंचने के लिए इंग्लैंड को अपने दोनों मैच लगभग 50 रन से जीतने होंगे। इसलिए यह निश्चित रूप से संभव है कि आप मैच जीत सकते हैं (लेकिन फिर भी सुनिश्चित करें कि इंग्लैंड आगे नही बढ़े)।''

'इंग्लैंड बाद में खतरा पैदा करेगा'

यह पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज इसे एक 'समझदारी भरा' कदम मानता है जो टूर्नामेंट में बाद में ऑस्ट्रेलिया की मदद कर सकता है। पेन ने कहा, ''यह सिर्फ इसलिए नहीं है क्योंकि यह इंग्लैंड है। आपको इन टूर्नामेंटों में वर्ल्ड कप जीतने के इरादे से उतरते हैं। निश्चित रूप से बाद के दौर में कौन खतरा पैदा कर सकता है? वह इंग्लैंड है।'' ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड ने भी इंग्लैंड की प्रगति में बाधा डालने के संभावित लाभ को स्वीकार किया और कहा कि यह सभी टीमों के 'सर्वश्रेष्ठ हित' में होगा।

'यह हमारे और सभी के हित में होगा'

हेजलवुड ने नॉर्थ साउंड में नामीबिया पर नौ विकेट की बड़ी जीत के बाद मीडिया से बातचीत में कहा, ''हां, मुझे ऐसा लगता है। इस टूर्नामेंट में आप संभावित रूप से किसी चरण में फिर से इंग्लैंड के खिलाफ खेल सकते हैं।'' उन्होंने कहा, ''वे शायद अपने दिन शीर्ष टीमों में से एक हैं और हमें टी20 क्रिकेट में उनके खिलाफ काफी संघर्ष करना पड़ा है इसलिए अगर हम उन्हें टूर्नामेंट से बाहर कर सकते हैं तो यह हमारे और शायद सभी के हित में होगा।'' हेजलवुड ने हालांकि कहा कि बाकी बचे मुकाबलों में टीम के रवैये में कोई बदलाव नहीं आएगा।