DA Image
7 जुलाई, 2020|10:18|IST

अगली स्टोरी

Covid-19 पर बोले शोएब अख्तर- यह बहुत खतरनाक है, लेकिन पाकिस्तान के लोग नहीं सुन रहे

पाकिस्तान में कोविड-19 से लगभग 800 से ज्यादा लोग संक्रमित पाए गए हैं, लेकिन अख्तर का कहना है कि लोग इस वायरस को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। इस समय को वे होली डे के रूप में ले रहे हैं।

shoaib akhtar

कोरोना वायरस के डर से इस समय पूरी दुनिया डरी हुई है। इटली, अमेरिका, जर्मनी, ईरान, स्पेन और इंग्लैंड जैसे देश इस खतरनाक वायरस से उबरने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। पूरी दुनिया में इसके लाखों मामले सामने आ चुके है और हजारों लोग इसकी वजह से जान गंवा चुके हैं। दुनियाभर की सभी सरकारें लोगों से अनुरोध कर रही हैं कि वे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और खुद को घरों में कैद रखें। हालांकि पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर अपने देशवासियों की प्रतिक्रिया से खुश नहीं हैं। 

पाकिस्तान में कोविड-19 से लगभग 800 से ज्यादा लोग संक्रमित पाए गए हैं, लेकिन अख्तर का कहना है कि लोग इस वायरस को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। इस समय को वे होली डे के रूप में ले रहे हैं। उन्होंने कहा, ''लोग घरों पर ही रहने की चेतावनी को अनदेखा कर रहे हैं और सड़कों पर, गलियों में घूम रहे हैं।''

PM नरेंद्र मोदी के लॉकडाउन फैसले पर बोले वीरेंद्र सहवाग, अगले 21 दिन देश के इतिहास के लिए बहुत अहम

एक यूट्यूब वीडियो में शोएब अख्तर ने कहा, ''आज मैं किसी बहुत जरूरी काम से बाहर गया। मैंने किसी से हाथ नहीं मिलाया, न ही किसी से गले मिला। पूरे समय मेरी कार के शीशे गिरे रहे। मैं जल्द ही घर वापस आ गया। बाहर मैंने एक खतरनाक प्रवृत्ति देखी। मैंने देखा चार लोग एक ही बाइक पर जा रहे थे। वे सब पिकनिक पर जा रहे थे। उनके पास खाने-पीने का सामान था। समझ नहीं आ रहा कि रेस्तरां अब तक क्यों खुले हुए हैं। जबकि भारत में 90 प्रतिशत लोगों ने कर्फ्यू का पालन किया। लेकिन यहां पाकिस्तान में हम ट्रेवलिंग को ही नहीं रोक पा रहे हैं।''

कोरोना वायरस की वजह से क्रुणाल पांड्या ने ऐसे मनाया जन्मदिन, हार्दिक ने खिलाया जीरो कैलोरी केक

उन्होंने कहा, ''90 प्रतिशत मामले ह्यूमन कॉन्टेक्ट्स के कारण सामने आए हैं। इसके बावजूद लोग घरों में नहीं रह रहे। हम क्या कर कर रहे हैं। यह खतरानक है, ऐसा करके आप दूसरों के जीवन से खेल रहे हैं। शोएब अख्तर ने पाकिस्तानी सरकार से भी लॉकडाउन का अनुरोध किया।''

उन्होंने कहा, ''हम यह नहीं समझ पा रहे हैं कि यह वायरस खतरनाक और बड़ी चुनौती है। इस मिथ में मत पड़िए कि यह गर्मियों में नहीं फैलता या युवाओं को अपनी चपेट में नहीं लेता। लोग क्यों बाहर निकल रहे हैं, बाहर निकलने की क्या जरूरत है।''

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:This is dangerous but people in Pakistan are not listening says Shoaib Akhtar asks people to stop treating Covid 19 pandemic as holiday or picnic time watch video