फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटयशस्वी जायसवाल की सेंचुरी पर ये कमेंट केविन पीटरसन को पड़ा भारी, फौरन सुधारी गलती, लोग बोले- अभी 22 साल का ही है

यशस्वी जायसवाल की सेंचुरी पर ये कमेंट केविन पीटरसन को पड़ा भारी, फौरन सुधारी गलती, लोग बोले- अभी 22 साल का ही है

Kevin Pietersen on Yashasvi Jaiswal: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन ने यशस्वी जायसवाल की सेंचुरी पर कुछ ऐसा कहा, जिसपर लोगों ने ऐतराज जताया। पीटसरन ने कुछ देर बाद ही अपनी गलती सुधार ली।

यशस्वी जायसवाल की सेंचुरी पर ये कमेंट केविन पीटरसन को पड़ा भारी, फौरन सुधारी गलती, लोग बोले- अभी 22 साल का ही है
Md.akram लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 17 Feb 2024 06:47 PM
ऐप पर पढ़ें

टीम इंडिया के युवा ओपनर यशस्वी जायसवाल ने शनिवार को इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट की दूसरी पारी मे कमाल की बल्लेबाजी की। यशस्वी ने 133 गेंदों का सामना करने के बाद 133 रन बनाए, जो उनका तीसरा टेस्ट शतक है। उन्होंने 9 चौके और 5 छक्के लगाए। शानदार लय में नजर आ रहे यशस्वी यशस्वी रिटायर्ड हर्ट होकर पवेलियन लौटे। यशस्वी के शतक की जमकर तारीफ हो रही है। वहीं, इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटसर ने भी यशस्वी की तारीफ की है। हालांकि, उन्होंने साथ ही कुछ ऐसा कह दिया, जिसपर लोगों ने ऐतराज जताया।

दरअसल, पीटसरन ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म 'एक्स' पर लिखा कि यशस्वी भले ही घर में शतक बना रहे हैं लेकिन उनकी सबसे बड़ी चुनौती घर से बाहर रन बनाना है। पीटरसन के इस कमेंट पर लोगों ने पूर्व इंग्लिश बल्लेबाज को याद दिलाया कि यशस्वी ने वेस्टइंडीज में टेस्ट डेब्यू किया था और पहले मैच में 171 रन की पारी खेली थी। कई यूजर ने कहा कि यशस्वी अभी सिर्फ 22 साल के हैं और अपना सातवां टेस्ट खेल रहे हैं। यह उनकी भारत में पहली सीरीज है और आप इस तरह की बात कर रहे हैं। पीटसरन को जब काफी आलोचना झेलनी पड़ी तो उन्होंने अपनी गलती सुधारी। 

बता दें कि पीटरसन ने पहली पोस्ट में लिखा, ''मुझे भारतीय परिस्थितियों में जायसवाल के गेम में एक भी कमजोरी नजर नहीं आती। उनकी सबसे बड़ी चुनौती घर से बाहर रन बनाना है। अपने करियर के अंत में एक महान खिलाड़ी कहे जाने के लिए आपको घर के बाहर सभी परिस्थितियों में शतक बनाने होंगे।'' पीटरसन ने कुछ देर बाद अन्य पोस्ट में लिखा, ''पिछले कुछ हफ्तों में जायसवाल को बहुत करीब से देखा है। वह हर जगह सेंचुरी बना सकता है और मुझे लगता है कि वह एक दिन महान खिलाड़ी बनेगा।''

यशस्वी ने जुलाई 2023 में टेस्ट डेब्यू किया। वह फिलहाल करियर की तीसरी टेस्ट सीरीज खेल रहे हैं। वह इंग्लैंड से पहले वेस्टइंडीज और साउथ अफ्रीका के विरुद्ध सीरीज में उतरे हैं। उन्होंने अब तक 13 टेस्ट पारियों में 57.77 की औसत से 751 रन बनाए हैं, जिसमें तीन शतक के अलावा तो अर्धशतक जमाए। यशस्वी  साउथ अफ्रीका के खिलाफ कुछ खास धमाल नहीं मचा पाए थे लेकिन इंग्लैंड सीरीज में उनका बल्ला खूब बोल रहा है। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट में डबल सेंचुरी ठोकी और पहले मैच में 80 रन की बेहतरीन पारी खेली।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें