DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऋषभ पंत के लिए खतरे की घंटी हैं ये 3 युवा विकेटकीपर

ऋषभ पंत को टीम प्रबंधन विशेषकर कप्तान विराट कोहली का समर्थन हासिल है, लेकिन उनकी लगातार विफलता और दूसरे वनडे में अय्यर की 68 गेंद में 71 रन की पारी से चीजें बदल गई हैं।

file image of rishabh pant getty images

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की प्रतिभा पर किसी को कोई संदेह नहीं है। 21 वर्षीय पंत विकेटकीपर के रूप में टीम इंडिया की पहली प्राथमिकता है। खासकर इसलिए क्योंकि पूर्व कप्तान और विकेटकीपर महेंद्र सिंह धौनी अपने करियर के आखिरी पड़ाव पर हैं। बाएं हाथ के बल्लेबाज ऋषभ पंत को हाल ही में विश्व कप 2019 में शिखर धवन के चोटिल होने के बाद टीम में शामिल किया गया। उन्हें वेस्टइंडीज दौरे पर तीनों फॉर्मेट की सीरीज में शामिल किया गया। एमएसके प्रसाद ने पंत को टीम में शामिल करते हुए कहा था कि वह इस युवा खिलाड़ी को ज्यादा से ज्यादा मौके देना चाहते हैं। 

हालांकि, ऋषभ पंत अपनी प्रतिभा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं। टी-20 के पहले दो मैचों में वह खराब शॉट खेलकर आउट हुए। लेकिन तीसरे टी-20 मैच में उन्होंने शानदार पारी खेलकर आलोचकों को चुप करवा दिया। इसके बाद वनडे सीरीज के दूसरे मैच में पंत एक बार फिर फ्लॉप रहे। ऐसे में भारतीय टीम में चौथे नंबर पर जगह पक्की करने को लेकर द्वंद्व चल रहा है और श्रेयस अय्यर ने दूसरे वनडे में शानदार पारी खेलकर ऋषभ पंत पर दबाव बढ़ा दिया है।

INDvWI: गावस्कर ने बताया कि पंत और अय्यर को किस ऑर्डर में करनी चाहिए बल्लेबाजी

ऋषभ पंत को टीम प्रबंधन विशेषकर कप्तान विराट कोहली का समर्थन हासिल है, लेकिन उनकी लगातार विफलता और दूसरे वनडे में अय्यर की 68 गेंद में 71 रन की पारी से चीजें बदल गई हैं। पंत की मानसिकता चिंता का विषय है क्योंकि उन्होंने कई मौकों पर अपना विकेट गंवाया है। कोई भी टीम इस महत्वपूर्ण स्थान पर धैर्यवान बल्लेबाज को उतारना चाहेगी और रविवार को खेली पारी से अय्यर ने अपना दावा मजबूत किया है।

अगर ऋषभ पंत अच्छा परफॉर्म नहीं करते और टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की नहीं कर पाते तो यह 3 खिलाड़ी उन्हें कड़ी टक्कर दे सकते हैं।

ICC World Cup 2023:  जानिए, कब और कहां खेला जाएगा आईसीसी वर्ल्ड कप 2023

इशान किशनः  इशान फिलवक्त इंडिया ए की तरफ से खेल रहे हैं। इससे यह पता चलता है कि 21 वर्षीय यह क्रिकेटर किस तरह अपने करियर में आगे बढ़ा है। बाएं हाथ का यह विकेटकीपर बल्लेबाज जब क्रीज पर होता है तो गेंदबाजों को रिद्म में नहीं आने देता। लेकिन उन्हें अपनी विकेट थ्रो करने का दोषी पाया गया है। लेकिन इसके बावजूद प्रतिभा की हत्या नहीं की जा सकती। 70 टी-20 मैचों में किशन की स्ट्राइक रेट 130.86 है। सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी में किशन ने 55.20 की औसत और 151.36 की स्ट्राइक रेट से 333 रन बनाए। इशान को अपनी परफोर्मेंस में कंसीस्टेंसी लानी होगी। इस युवा खिलाड़ी ने 2016 में आईपीएल में डेब्यू किया था। अब लिस्ट ए क्रिकेट में उनका औसत 37.10 है और वह तीन शतक भी बना चुके हैं। वह पंत के लिए कभी भी चुनौती बन सकते हैं।

संजू सैमसनः संजू को विकेट के पीछे शानदार खिलाड़ियों में गिना जाता है। गौतम गंभीर ने उनके बारे में कहा था कि उन्हें विश्व कप 2019 की टीम में शामिल होना चाहिए। क्रिकेट जगत में इस खिलाड़ी का उदय 2013 में हुआ। उन्होंने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा। 2015 में उन्होंने इंडियन जर्सी हासिल की और जिंबाब्वे के खिलाफ खेले। लेकिन यह आखिरी मौका रहा, जब उन्होंने देश का प्रतिनिधित्व किया। लेकिन वह अब भी रडार से बाहर नहीं हुए हैं। आईपीएल 2019 में उन्होंने 342 रन बनाए। सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ उन्होंने एक शतक भी लगाया। लेकिन उन्हें लिस्ट ए के मैचों में अपना प्रदर्शन सुधारना होगा। वह एक ऐसे खिलाड़ी हैं जो ऋषभ पंत की जगह ले सकते हैं। 

INDvsWI, 2nd ODI: श्रेयस अय्यर ने जड़ा शानदार अर्धशतक, फैन्स बोले- नंबर 4 पर खिलाओ 

अंकुश बैंसः बेशक अंकुश बैंस भारतीय क्रिकेट में कोई बड़ा नाम न हों, लेकिन उनमें आगे आने की भरपूर योग्यता है। 2014 अंडर-19 में उन्होंने कुछ अर्द्धशतकीय पारियां खेलीं। अब तक वह 36 टी-20 खेल चुके हैं। इसमें उन्होंने 23.74 की औसत से 736 रन बनाए। हमीरपुर में जन्में अंकुश ने हिमाचल प्रदेश के लिए एसएमए ट्रॉफी में 6 मैचों में 198 रन बनाए। इनमें तीन अर्धशतक भी शामिल थे। वह आईपीएल की कई फ्रैंचाइचीज के साथ भी रहे। उनकी उम्र अभी केवल 23 साल है। लिस्ट ए के मैचों में अंकुश ने 24.05 की औसत से 818 रन बनाए हैं। पिछले साल यह युवा खिलाड़ी उस भारतीय टीम का हिस्सा थे, जिसने श्रीलंका के दौरे पर एसीसी एमर्जिंग टीम्स कप में भाग लिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:These 3 young wicketkeeper batsmen sanju samson ishan kishan can give tough competition to Rishabh Pant