फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटThe Ashes, 2021-22: स्टुअर्ट ब्रॉड-जेम्स एंडरसन के अनुभव के आगे ऑस्ट्रेलियाई टीम पस्त, आखिरी 12 गेंद खेलकर ड्रॉ करवाया चौथा टेस्ट

The Ashes, 2021-22: स्टुअर्ट ब्रॉड-जेम्स एंडरसन के अनुभव के आगे ऑस्ट्रेलियाई टीम पस्त, आखिरी 12 गेंद खेलकर ड्रॉ करवाया चौथा टेस्ट

इंग्लैंड ने अपने बल्लेबाजों के संघर्ष के सहारे सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर ऑस्ट्रेलिया के साथ खेले गए एशेज सीरीज के चौथे टेस्ट मैच को ड्रॉ करा दिया है। इस टेस्ट मैच में इंग्लैंड के निचले क्रम...

The Ashes, 2021-22: स्टुअर्ट ब्रॉड-जेम्स एंडरसन के अनुभव के आगे ऑस्ट्रेलियाई टीम पस्त, आखिरी 12 गेंद खेलकर ड्रॉ करवाया चौथा टेस्ट
Dheeraj Palलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीSun, 09 Jan 2022 05:06 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

इंग्लैंड ने अपने बल्लेबाजों के संघर्ष के सहारे सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर ऑस्ट्रेलिया के साथ खेले गए एशेज सीरीज के चौथे टेस्ट मैच को ड्रॉ करा दिया है। इस टेस्ट मैच में इंग्लैंड के निचले क्रम के बल्लेबाजों के साहसिक प्रदर्शन की खूब चर्चा हो रही है। खासकर इंग्लैंड के गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड और जेम्स एंडरसन की। दोनों ही खिलाड़ियों ने अपना पूरा अनुभव झोंकते हुए बेहद दबाव के बीच अंतिम 2 ओवर बल्लेबाजी करके इंग्लैंड को हार से बचा लिया और मैच ड्रॉ कराकर साथ में पवेलियन लौटे। 

दोनों की खिलाड़ियों के टेस्ट अनुभव की बात करें, तो दोनों ही खिलाड़ियो ने 320 टेस्ट मैच खेलकर अपना सबकुछ अंग्रेजी क्रिकेट को समर्पित कर दिया है। बताते चलें कि स्टूअर्ट ब्रॉड ने इंग्लैंड टीम के लिए अब तक 151 टेस्ट मैच खेले हैं, जबकि जेम्स एंडरसन ने टीम के लिए अब तक 169 टेस्ट मैच खेले हैं। क्रीज पर उन दोनों का खड़े रहना यह भी बताता है कि एशेज सीरीज उनके लिए क्या मायने रखती है। हालांकि ऑस्ट्रेलिया यह टेस्ट ड्रा होने के बावजूद पांच मैचों की सीरीज में 3-0 से आगे है।

388 रनों का लक्ष्य

आपको बता दें ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 388 रनों का लक्ष्य दिया था। इस लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड दूसरी पारी में नौ विकेट खोकर 270 रन बनाने में कामयाब रही। सिडनी टेस्ट के अंतिम दिन यह मैच रोमांचक मोड़ पर था। इतना ही नहीं  इंग्लैंड टीम हार की तरफ बढ़ती हुई नजर आ रही थी, लेकिन निचले क्रम में पुछल्ले बल्लेबाजों के साहसिक प्रदर्शन से इंग्लैंड की टीम ने यह मैच ड्रॉ करवाने में कामयाब रही।

जैक लीच (26), स्टुअर्ट ब्रॉड (नाबाद 08) और जेम्स एंडरसन (नाबाद 00) ने बेहद दबाव के बीच अंतिम 10 ओवर बल्लेबाजी करके इंग्लैंड को हार से बचाया। स्कॉट बोलैंड (30 रन पर तीन विकेट), कप्तान पैट कमिंस (80 रन पर दो विकेट) और नाथन लियोन (28 रन पर दो विकेट) ने आस्ट्रेलिया को जीत की दहलीज पर पहुंचाया जिसके बाद स्टीव स्मिथ (10 रन पर एक विकेट) ने दो ओवर शेष रहते लीच को आउट किया। टीम हालांकि अंतिम ओवर ओवर में आखिरी विकेट हासिल नहीं कर सकी।

ब्रॉड और एंडरसन ने दो ओवर टिके रहकर इंग्लैंड को हार से बचा लिया जिसने 102 ओवर में नौ विकेट पर 270 रन बनाए। इग्लैंड ने बल्लेबाजी में श्रृंखला का संभवत: अपना सबसे प्रतिबद्ध प्रदर्शन किया जिससे मैच ड्रॉ की ओर बढ़ रहा था लेकिन अंतिम घंटे से पहले कमिंस ने जोस बटलर (11) और मार्क वुड (00) को तीन गेंद के अंदर आउट करके आस्ट्रेलिया का पलड़ा भारी कर दिया। इस समय टीम का स्कोर 85 ओवर में सात विकेट पर 218 रन था।  टेस्ट क्रिकेट में बेहतरीन शुरुआत करने वाले बोलैंड ने पहली पारी के शतकवीर जॉनी बेयरस्टो (41) को मार्नस लाबुशेन के हाथों कैच कराया। यह बोलैंड का दूसरे टेस्ट में 14वां विकेट था।

फिलहाल, दोनों टीमों के बीच एशेज सीरीज का पांचवां और अंतिम टेस्ट 14 जनवरी से होबार्ट में खेला जाएगा।

epaper