DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Team India Support Staff Selection: इन दिग्गजों का हुआ इंटरव्यू, राठौड़-आमरे दौड़ में आगे!

मुख्य कोच चुने गए रवि शास्त्री ने मौजूदा सहयोगी सदस्यों को बरकरार रखने की ओर इशारा किया, जिससे यह माना जा रहा कि गेंदबाजी कोच भरत अरूण और फील्डिंग कोच आर श्रीधर का दावा काफी मजबूत रहेगा।

sanjay bangar  ravi shastri  bharat arun  ap

Team India Support Staff Selection: पूर्व स्टार खिलाड़ी जोंटी रोड्स और संजय बांगड़ (Sanjay Bangar) सहित निवर्तमान कोचों ने मंगलवार (20 अगस्त) को भारतीय टीम के सहायक कोचों के लिए इंटरव्यू दिया। सोमवार को बल्लेबाजी और गेंदबाजी कोच के लिए 18 लोगों के इंटरव्यू के बाद एमएसके प्रसाद की अगुआई वाली सीनियर चयन समिति ने मंगलवार को इंटरव्यू की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया।

विक्रम राठौड़ हैं प्रबल दावेदार
दक्षिण अफ्रीका के पूर्व स्टार रोड्स ने स्काइप के जरिये फील्डिंग कोच के पद के लिए इंटरव्यू दिया। बल्लेबाजी कोच की दौड़ में संजय बांगड़ को पूर्व भारतीय खिलाड़ियों विक्रम राठौड़ और प्रवीण आमरे से कड़ी टक्कर मिल रही है। राठौड़ को प्रबल दावेदार माना जा रहा है। 

India vs West Indies 1st Test Match: प्लेइंग XI की माथापच्चीः रोहित-रहाणे दोनों या फिर पांच गेंदबाज

लालचंद राजपूत ने भी दिया इंटरव्यू
संजय बांगड़ 2014 से टीम के साथ जुड़े हुए हैं और वह वेस्टइंडीज से वीडियो कांफ्रेंस के जरिये पैनल के समक्ष पेश हुए। वहीं,भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के पद के लिए नजरअंदाज किए गए लालचंद राजपूत अब बल्लेबाजी कोच बनने की दौड़ में शामिल हो चुके हैं। इसके लिए उन्होंने सोमवार को अन्य दावेदारों के साथ इंटरव्यू दिया। 

संजय बांगड़ को मिली सबसे ज्यादा चुनौती
मौजूदा बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ को हालांकि कड़ी चुनौती मिल रही है, क्योंकि सबसे ज्यादा आवेदन इसी पद के लिए आए हैं। संजय बांगड़ 2014 से टीम से जुड़े हुए हैं, जिनके बल्लेबाजी कोच रहते हुए भारतीय टीम ने 50 टेस्ट और 119 एकदिवसीय खेले हैं। वर्ल्ड कप के बाद से ही कहा जा रहा है कि बल्लेबाजी कोच के स्थान पर जरूर बदलाव देखा जा सकता है। मौजूदा बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ का जाना तय माना जा रहा है और इसकी वजह नंबर-4 के लिए उपुयक्त बल्लेबाज न खोज पाना। 

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से दिया इंटरव्यू
मौजूदा गेंदबाजी कोच भरत अरुण और फील्डिंग कोच आर श्रीधर ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इंटरव्यू दिया। बांग्लादेश और पाकिस्तान की टीमों के साथ काम कर चुके इंग्लैंड के जूलियन फाउंटेन फील्डिंग कोच के पद के लिए निजी तौर पर पैनल के समक्ष पेश हुए। अभय शर्मा ने भी इस पद के लिए इंटरव्यू दिया।

INDvWI Test Series 2019: टीम इंडिया की इस बात से टेंशन में कप्तान विराट कोहली

एमएसके प्रसाद पर सपोर्ट स्टाफ चुनने की जिम्मेदारी
सपोर्ट स्टाफ को चुनने की जिम्मेदारी एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय सीनियर चयन समिति पर है। समिति ने सोमवार से प्रक्रिया शुरू कर दी है और गुरुवार तक वह सपोर्ट स्टाफ के नामों का ऐलान कर देगी। कोच को चुनने वाली सीएसी चाहती थी कि सपोर्ट स्टाफ भी वही चुने लेकिन अगर प्रशासको की समिति (सीओए) सीएसी को यह जिम्मेदारी देती तो यह बोर्ड के नए संविधान का उल्लंघन होता। बीसीसीआई के नए संविधान के मुताबिक, मुख्य कोच को चुनने की जिम्मेदारी सीएसी की है जबकि सपोर्ट स्टाफ को चुनने का जिम्मा चयन समिति पर है। 

भरत अरुण और आर श्रीधर का दावा मजबूत
सपोर्ट स्टाफ की बात की जाए तो गेंदबाजी कोच भरत अरुण का बने रहना तय है। उनके रहते टीम एक मजबूत गेंदबाजी ईकाई बनी है। वहीं फील्डिंग कोच आर श्रीधर के भी टीम के साथ बने रहने की संभावनाएं हैं। शास्त्री ने कई बार कहा है कि टीम की फील्डिंग बेहतरीन है। श्रीधर के बने रहने का मतलब है कि जोंटी रोड्स को खाली हाथ लौटना पड़ सकता है। 

India tour to West Indies 2019: वेस्टइंडीज के खिलाफ विराट कोहली के पास धौनी का सबसे बड़ा टेस्ट रिकॉर्ड तोड़ने का मौका

बता दें कि एक बार फिर से टीम के मुख्य कोच चुने गए रवि शास्त्री ने मौजूदा सहयोगी सदस्यों को बरकरार रखने की ओर इशारा किया, जिससे यह माना जा रहा कि गेंदबाजी कोच भरत अरूण और फील्डिंग कोच आर श्रीधर का दावा काफी मजबूत रहेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Team India Support Staff Selection Bharat Arun sanjay Bangar Sridhar Jonty Rhodes incumbents appear for interviews vikram Rathour and praveen Amre front runners for batting coach